समस्तीपुर। हलई ओपी के सारंगपुर पश्चिमी पंचायत अंतर्गत ऐतिहासिक यतिस्थान के शिव मंदिर से पहली जनवरी की रात चोरों ने शिव¨लग में लिपटे नाग प्रतिमा की चोरी कर ली। मंदिर के पुजारी सुबोध कुमार झा द्वारा इसकी जानकारी स्थानीय ग्रामीणों को दी गई है। पुजारी के अनुसार सोमवार की रात में पूजा के बाद मंदिर बंद करके घर चले गए। रात्रि पूजा के दौरान नाग मूर्ति थी। सुबह प्रात:कालीन पूजा के समय मंदिर खोलने पर नाग प्रतिमा गायब मिली। पहली जनवरी के दिन ही इस ऐतिहासिक सिद्धपीठ यतिस्थान के शिव मंदिर से नाग मूर्ति की चोरी होने की घटना से संपूर्ण क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सोमवार के दिन नागमूर्ति की चोरी से लोगों में विभिन्न प्रकार की आशंका व्याप्त हो गई। विदित हो कि मंदिर प्रांगण के निकट विगत 10 दिनों से आधी रात तक रामलीला की भीड़ जुटी रहती है। इस भीड़ के दौरान हीं चोरों ने रात के अंधेरे का लाभ उठाकर मंदिर से नाग मूर्ति की चोरी कर ली। अष्टधातु होने की आशंका पर इसकी कीमत बाजार में लाखों समझकर चोरों द्वारा घटना को अंजाम दिया गया है। जबकि पीतल से बने नागमूर्ति का वजन 1 किलो से अधिक बताया जा रहा है। मूर्ति की चोरी होने पर संपूर्ण पंचायत में भय व्याप्त हो गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस