रोहतास। स्थानीय रेलवे स्टेशन पर एक और ट्रेन हादसा होने से बचा। आरा से सासाराम आने वाली मेमू ट्रेन शाम में बेपटरी होने से बची। आरा-सासाराम रेलखंड के लिए बने प्लेटफार्म के ट्रैक से सटे होने के कारण 75273 आरा-डेमू ट्रेन रगड़ खाते हुए उसमें सट गई। इंजन व बोगी को रगड़ खाते देख चालक ने आपात ब्रेक लगा उसे रोका। ट्रेन के प्लेटफार्म के पूर्वी छोर पर फंसे होने की सूचना मिलते ही रेलवे के स्थानीय अधिकारी मौके पर पहुंच स्थिति का जायजा लिया। चालक ने पहले उसी स्थिति में ट्रेन को आगे निकालने की कोशिश की, लेकिन जब ट्रेन टस से मस नहीं हुई तो रेल प्रशासन को प्लेटफार्म को काटना पड़ा।

स्टेशन प्रबंधक उमेश कुमार ने बताया कि अप में आने के क्रम में आरा-सासाराम डेमू ट्रेन का इंजन व कुछ बोगी बारिश होने से ट्रैक के इधर-उधर होने के कारण प्लेटफार्म में सट गई। मजदूरों के सहयोग से प्लेटफार्म को काट कर ट्रेन को आगे निकाला गया। बीते दस दिन के दौरान सासाराम में यह तीसरी घटना है। कहा कि वस्तुस्थिति से विभाग के उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो प्लेटफार्म संख्या सात व उसके ट्रैक के बीच गैप जितना चाहिए उतना नहीं है। जिस कारण ट्रेन का बोगी अक्सर प्लेटफार्म से अक्सर रगड़ खाता रहता है। चालक ने सूझबूझ का परिचय दिया, नहीं तो चार दिन पूर्व हुई घटना की पुनरावृत्ति हो सकती थी।

ज्ञातव्य हो कि इसके पहले 15 सितंबर को गुड्स शेड्स लाइन से मेन डाउन में जाने के क्रम में धनपुरवा रेलवे क्रासिग के पास मालगाड़ी का एक डिब्बा पटरी से उतर गया था। उसके बाद 23 सितंबर को इसी स्थान पर दूसरी बार मालगाड़ी का दो डिब्बे पटरी से उतर गए थे। बेपटरी हुए डिब्बे के धक्के से बिजली का खंभा भी क्षतिग्रस्त होकर गिर गया था, जिससे डिब्बे व इंजन में करंट आ गया था। करंट के झटका महसूस होने के बाद चालक कूद कर अपनी बचाई थी। हालांकि मामले को गंभीरता से लेते हुए मुगलसराय रेल डिवीजन के डीआरएम पंकज सक्सेना ने पीडब्लूआइ व एक मेठ को निलंबित किया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप