जागरण संवाददाता,सासाराम:रोहतास। एसपी सत्यवीर सिंह के निर्देश पर मस्जिद के समीप तीन दिन पहले हुए बम विस्फोट मामले में सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाले दो युवकों को नगर थाना की पुलिस ने मंगलवार की रात हिरासत में ले लिया। पूछताछ में एक युवक को निर्दोष मानते हुए पुलिस ने उसे छोड़ दिया, जबकि एक को पूछताछ के बाद बुधवार को जेल भेज दिया गया।

नगर थानाध्यक्ष आरबी चौधरी ने बताया कि गिरफ्तार युवक को जेल भेज दिया गया। उसपर सोशल मीडिया के माध्यम से मस्जिद में बम विस्फोट और 100 की संख्या में बम बरामद किए जाने से गलत सूचना प्रसारित करने का आरोप है। युवक की गिरफ्तारी की सूचना फैलते ही नगर थाना व जीटी रोड पर काफी देर तक गहमागहमी का माहौल रहा। थाना पर जमा हुई भीड़ पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए युवक को निर्दोष बताते हुए उसे मुक्त करने की मांग कर रही थी। एसपी ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से भ्रामक खबर प्रसारित कर समाज में उन्माद कायम करने के प्रयास में संलिप्त लोगों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। एएसपी हृदयकांत ने बताया कि बम विस्फोट मामले में अफवाह फैला सामाजिक सछ्वाव बिगाड़ने के प्रयास के मामले में अलग से प्राथमिकी दर्ज हुई थी। इस मामले में मनीष द्वारा फेसबुक पर गलत तथ्य पोस्ट कर अफवाह फैलाया गया। जिसके कारण उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप