Move to Jagran APP

Rupauli By Election: रुपौली उपचुनाव को लेकर प्रचार थमा, कल होगा मतदान; कौन मारेगा बाजी?

रुपौली उपचुनाव को लेकर पूरे बिहार में सियासी पारा हाई है। जदयू के कलाधर प्रसाद मंडल राजद की बीमा भारती और निर्दलीय शंकर सिंह के बीच त्रिकोणीय संघर्ष देखने को मिल सकता है। कल यानी 10 जुलाई को रुपौली के मतदाता अपना फैसला ईवीएम में कैद करेंगे। सियासी गलियारों में चर्चा है कि यहां की अधिसंख्य गंगोता जाति के वोटों की गोलबंदी जीत-हार में निर्णायक साबित होगी।

By Narendra Kumar Anand Edited By: Rajat Mourya Tue, 09 Jul 2024 08:36 AM (IST)
जदयू प्रत्याशी कलाधर प्रसाद मंडल और राजद प्रत्याशी बीमा भारती। (फाइल फोटो)

जागरण संवाददाता, पूर्णिया। Rupauli By Election 2024 रुपौली विधानसभा उपचुनाव की अब उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। सोमवार शाम पांच बजे से प्रचार का शोर थम गया है। बुधवार, 10 जुलाई को मतदाता अपना फैसला ईवीएम में कैद कर देंगे।

शुरू से ही यहां त्रिकोणीय संघर्ष की स्थिति बनी हुई है। इतना तय है कि यहां की अधिसंख्य गंगोता जाति के वोटों की गोलबंदी जीत-हार में निर्णायक साबित होगी।

NDA और महागठबंधन के लिए बनी प्रतिष्ठा की सीट

राजद की बीमा भारती व जदयू के कलाधर मंडल के साथ लोजपा से इस्तीफा देकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे शंकर सिंह वोटरों को गोलबंद करने में जुटे हैं। इस सीट के लिए मतगणना 13 जुलाई को होनी है। रुपौली विधानसभा उप चुनाव एनडीए और महागठबंधन के लिए प्रतिष्ठा की सीट बन गई है।

एनडीए नेताओं ने लगाया पूरा जोर

जदयू से इस्तीफा देकर राजद के टिकट पर चुनाव लड़ रह रहीं बीमा भारती को हराने के लिए एनडीए के नेताओं ने पूरा जोर लगा दिया है तो राजद भी बीमा भारती की जीत के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, हम के जीतनराम मांझी, लोजपा के चिराग पासवान ने जहां अलग-अलग सभाएं की, वहीं डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने रोड शो किया।

जदयू के बड़े नेता संजय झा, ललन सिंह सहित दर्जन भर से अधिक मंत्री, सांसद, विधायक यहां कैंप किए रहे। राजद की ओर से तेजस्वी यादव सहित पार्टी के एमपी, विधायकों, पूर्व मंत्रियों ने मोर्चा संभाला। राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक संख्या गंगोता वोटरों की 70 हजार से अधिक है।

कुर्मी-कुशवाहा वोटर 45 हजार व यादव-मुस्लिम 50 हजार हैं। इनके अलावा आदिवासियों, अनुसूचित जाति, वैश्य आदि वोट भी यहां ठीक-ठाक संख्या में हैं। चुनाव मैदान में अभी 11 प्रत्याशी हैं।

राजद और जदयू दोनों के प्रत्याशी गंगोता जाति से आते हैं। निर्दलीय शंकर सिंह की सभी जातियों के वोटरों के बीच अच्छी पैठ है।

ये भी पढ़ें- Rupauli By Election: रुपौली में बीमा भारती को मिल गया अब इस कद्दावर नेता का साथ, बोले- जब नीतीश कुमार लालू के साथ...

ये भी पढ़ें- Pappu Yadav: पप्पू यादव ने बदला पासा, रुपौली उप चुनाव में इस कैंडिडेट को दिया समर्थन; हाथ जोड़कर माफी मांगी