पूर्णिया। जिले के बायसी प्रखंड मुख्यालय स्थित चाइल्डलाइन उप केंद्र कार्यालय में गुरुवार को जिला समन्वयक मयूरेश गौरव की अध्यक्षता में चाइल्डलाइन टीम लीडर की मासिक बैठक हुई।

बैठक में बच्चों के बेहतर संरक्षण पर जिला समन्वयक ने जोर दिया। मौजूद चाइल्ड लाइन टीम को वैश्विक महामारी कोरोना काल में बच्चों के संरक्षण पर विस्तृत जानकारी भी जिला समन्वयक ने दी। उन्होंने कहा कि बच्चों के संरक्षण के लिए चाइल्ड लाइन काफी सजग है। चाइल्ड लाइन द्वारा किए गए कार्यो की उपलब्धि पर भी विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। जिला समन्वयक मयूरेश कुमार गौरव ने उपस्थित टीम लीडर व कर्मियों के द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी भी ली। साथ ही सभी प्रकार के प्रगति प्रतिवेदन ससमय जमा करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बच्चों के संरक्षण को लेकर बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर चाइल्ड लाइन टीम को पैनी नजर रखने की जरुरत है। उन्होंने बताया कि महामारी और बाढ़ को लेकर बच्चों की ट्रैफिकिग की संभावना बढ़ गई है। कोरोना संक्रमण व बच्चों के संरक्षण को लेकर गांव स्तर पर जागरूकता की आवश्यकता है। चाइल्ड लाइन उपकेंद्र बायसी कार्यालय के सभी पंजियों व मासिक प्रगति प्रतिवेदनों का निरीक्षण भी किया गया। पंजी निरीक्षण करने के दौरान जिला समन्वयक ने बैठक में मौजूद टीम सदस्यों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया । बैठक में चाइल्ड लाइन बी कोठी उपकेंद्र के समन्वयक विनय सिंह,कसबा चाइल्ड लाइन उप केंद्र के जयकृष्ण गुरुग,वायसी के समन्वयक ओम कुमार दीप, चाइल्ड लाइन पूर्णिया के टीम सदस्य अजीत कुमार, टीम सदस्य प्रतिमा कुमारी, विश्वनाथ,कामेश्वर कुमार विश्वास, बबिता रानी घोष व गौरव कुमार मुख्य रूप से मौजूद थे।

Edited By: Jagran