पूर्णिया। पड़ोसी जिला कटिहार की एक और बालिका ने शादी से इंकार करने की हिम्मत दिखाई है। कटिहार जिला की 13 वर्षीय बच्ची की शादी उसका भाई यूपी के अधेड़ से करने की तैयारी कर रहा था। लड़की द्वारा लगातार शादी नहीं करने और अभी पढ़ाई करने की अनुमति देने की गुहार लगा रही थी लेकिन उनकी कोई नहीं सुन रहा था। इसलिए वह घर से भाग गई और भटक कर सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत पूर्णिया सिटी पहुंच गई। इस बीच किसी ने चाइल्ड लाइन के राजा सिंह को सूचना दी जिसके बाद कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन फाउंडेशन के कोर्डिनेटर सुमित प्रकाश को भी इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद चाइल्ड लाइन जिला समन्वयक मयूरेश गौरव और खुशबू रानी ने मौके पर पहुंचकर बालिका को अपने संरक्षण में लिया और सदर थाने में सनहा दर्ज कराया। बालिका की सदर अस्पताल में कोविड-19 का जांच करवाया गया। फिर उसे चाइल्डलाइन कार्यालय लाया गया। समन्वयक मयूरेश गौरव ने बताया कि बालिका की जब काउंसिलिग की गई तो उसने अपना उम्र 13 वर्ष पता कटिहार बताया है। भाई के द्वारा बच्ची की शादी यूपी के किसी लड़के से करवाने की जानकारी दी, लेकिन कहा कि वह अभी शादी नहीं करना चाहती है इसलिए वह अपने परिवार को बिना बताए घर से निकल गई। फिलहाल उसे बालिका गृह में आश्रय दिया गया है।