पूर्णिया, जागरण संवाददाता। बिहार के पूर्णिया में चलती बस में छेड़छाड़ और दुष्कर्म करने की कोशिश पर एक महिला ने बस से बाहर छलांग लगा दी। इससे वह घायल हो गई। उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। महिला दार्जिलिंग की रहने वाली है। बुरी तरह जख्मी हालत में सड़क किनारे मिली महिला को आनन-फानन में बायसी पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में दाखिल कराया था। हालांकि, अब स्वजन उसे इलाज के लिए सिलीगुड़ी ले गए हैं।

जानकारी के अनुसार, दार्जिलिंग की रहने वाली महिला मंगलवार को चार मनचलों ने चलती बस में छेड़छाड़ और दुष्कर्म करने की कोशिश की थी। बस बिहार के वैशाली से पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी जा रही थी। पूर्णिया में दालकोला चेक पोस्ट के पहले बस में महिला के आलावा चार यात्री रह गए थे। चारों महिला पर फब्तियां कसने लगे और छेड़छाड़ शुरू कर दी।

इस पर महिला ने बस के चालक और कंडक्टर से मदद मांगी। आरोप है कि बस चालक और कंडक्टर ने कोई मदद नहीं की और बस भी नहीं रोकी। इससे घबराई महिला ने डर के मारे बस से छलांग लगा दी। यह घटना मंगलवार रात एक से डेढ़ बजे के बीच घटी। महिला सिलीगुड़ी में एक निजी स्कूल में पढ़ाती है। वह नौकरी के सिलसिले में ही वैशाली गई थी। मंगलवार को वहीं से बस में सवार हुई थी।

नेपाली और अंग्रेजी बोल रही महिला

महिला की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। पूर्णिया जीएमसीएच में उसका इलाज किया जा रहा था। घटना बायसी थाना क्षेत्र में राष्ट्रीय राजमार्ग 31 पर दालकोला के समीप हुई। रात्रि गश्ती दल को रात 1:30 बजे महिला घायल अवस्था में सड़क किनारे मिली थी। होश आने पर महिला ने पुलिस को बयान दिया था। वह नेपाली और अंग्रेजी बोल पा रही थी।

महिला ने बयान में कहा कि बस पर सवार कुछ मनचलों के छेड़खानी और दुष्कर्म का प्रयास करने पर वह चलती बस की खिड़की से कूद गई थी। अस्पताल के कर्मचारियों ने महिला के स्वजन को घटना की सूचना दी। बायसी एसडीपीओ आदित्य कुमार ने बताया कि सड़क किनारे घायल अवस्था में महिला मिली है।

उसका इलाज कराया जा रहा है। चार अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस दालकोला चेक पोस्ट पर लगे सीसीटीवी के फुटेज खंगाल रही है। वहीं, स्वजन महिला को उपचार के लिए सिलीगुड़ी ले गए हैं। पुल‍िस के अनुसार स‍िर पर लगी चोट के कारण महिला बार-बार अपना बयान बदल रही थी।

बदमाशों की फायरिंग में बाल-बाल बचे मुखिया पति 

बसंतपुर चिंतामणि पंचायत की मुखिया सोनी सिंह के पति दौलत सिंह पर मंगलवार की रात्रि बाइक सवार बदमाशों ने फायर झोंक दिया। हमले में दौलत सिंह बाल-बाल बच गए। घटना बलिया पेट्रोल पंप के पास हुई। मुखिया के पति ने बताया कि मंगलवार की रात वह बसंतपुर चिंतामणि पंचायत क्षेत्र के बलिया गांव में सड़क ढलाई का काम संपन्न कराकर अपने घर करमनचक जा रहे थे। बलिया पेट्रोल पंप के पास बाइक पर सवार अपराधियों ने उनके ऊपर गोली चला दी। शुक्र रहा गोली लगी नहीं।

वहीं, गोली की आवाज सुनकर ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई। मौके का फायदा उठाकर अपराधी वहां से भागने गए। पुलिस के अनुसार मुखिया के पति ने हमलावरों की पहचान कर ली है। उन्होंने बलिया ओपी में लिखित आवेदन दिया है। बलिया ओपी प्रभारी सदानंद साह ने बताया कि गोली चलने का मामला संदिग्ध है। मुखिया पति और आरोपितों के टकराव हुआ होगा। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Aditi Choudhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट