पटना, राज्य ब्यूरो। नए सत्र में माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में लाइब्रेरियन की नियुक्ति की प्रक्रिया मई से शुरू हो जाएगी। इसे लेकर शिक्षा विभाग की ओर से तैयारियां तेज कर दी गई हैं। करीब 1800 लाइब्रेरियन की नियुक्ति होनी है। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में खाली पदों पर लाइब्रेरियन की नियुक्ति के लिए नियमावली बनकर तैयार है। पहली बार लाइब्रेरियन की नियुक्ति के लिए पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य किया गया है।

मिडिल स्कूलों में भी पुस्तकालयाध्यक्षों की बहाली

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर अमल करने में जुटा शिक्षा विभाग द्वारा मिडिल स्कूलों में भी पुस्तकालयाध्यक्षों की नियुक्त का प्रस्ताव तैयार किया गया है जिन मिडिल स्कूलों में पांच सौ से ज्यादा किताबें उपलब्ध होंगी, वहां पहले लाइब्रेरियन की नियुक्ति की जाएगी। जरूरत पडऩे पर पद सृजित किया जाएगा।

विश्वविद्यालयों में भरे जाएंगे पुस्तकालय अध्यक्ष के खाली पद

शिक्षा विभाग ने बिहार कर्मचारी चयन आयोग (Bihar Staff Selection Commission)  से विश्वविद्यालयों और अंगीभूत महाविद्यालयों में भी लाइब्रेरियन की नियुक्ति करने का फैसला किया है। इससे पहले सभी विश्वविद्यालयों द्वारा महाविद्यालयों में पुस्तकालय अध्यक्ष एवं सहायक पुस्तकालय अध्यक्ष के पद पर नियुक्ति की जाती थी। लाइब्रेरियन की नियुक्ति प्रक्रिया मई-जून में शुरू होगी।