पटना, जागरण संवाददाता। ना उम्र की सीमा हो, न जन्‍म का हो बंधन...। मशहूर गायक जगजीत सिंह के गजल की ये पंक्तियां प्रेमी जोड़े को बहुत पसंद आती है। लेकिन पटना में शुक्रवार को जाति की दीवार तोड़कर एक-दूसरे को अपनानेवाले प्रेमी जोड़े पर परिवारवालों की बंदिशें लग गई। फिर तो खूब बवाल हो गया। घटना राजधानी के शास्‍त्रीनगर थाना क्षेत्र के राजाबाजार इलाके की है।  युवती बिहार पुलिस में कार्यरत है। वह जिस लड़के से प्‍यार करती है वह प्राइवेट नौकरी करता है। बवाल तब हुआ जब लड़की के स्‍वजन उसके आवास पर पहुंचे। वहां लड़के को देखते ही उनलोगों ने उसकी पिटाई कर दी। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची। प्रेमी जोड़े को महिला थाने की पुलिस अपने साथ ले गई। लड़की उसी युवक से शादी करने पर अड़ी रही। दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद पुलिस ने कहा कि दोनों बालिग हैं इसलिए उन्‍हें शादी करने से कोई नहीं रोक सकता। 

सारण जिले के हैं महिला सिपाही और प्रेमी युवक 

बताया जाता है कि महिला सिपाही और उसका प्रेमी सारण जिले के रहने वाले हैं। दोनों एक-दूसरे से प्रेम करते हैं। महिला सिपाही अपने उस प्रेमी के साथ चार वर्षों से लिव इन में रह भी रही है। लड़की पटना में बिहार पुलिस की कांस्‍टेबल है। वहीं लड़का प्राइवेट जाब में है। लेकिन लड़की के परिवारवाले उनके इस संबंध पर राजी नहीं हैं। दोनों की अलग-अलग जाति है। लड़की वाले महिला सिपाही की शादी अपनी बिरादरी में करना चाहते हैं।  इसको लेकर लड़की के परिवार वाले विरोध जता रहे थे।

शादी करूंगी तो इसी से 

शुक्रवार को लड़की के परिवारवाले अचानक पहुंचे तो महिला सिपाही को उसके प्रेमी के साथ देखा। यह देखकर वे आगबबूला हाे गए। लड़के की जमकर पिटाई कर दी। वहां सड़क पर भी विवाद हुआ। इसके बाद मामला थाने पहुंचा। महिला सिपाही का कहना था कि वह शादी तो उसी से करेगी। महिला थाना प्रभारी किशोरी सहचरी का कहना था कि लड़का-लड़की एक-दूसरे से प्रेम करते हैं। शादी करना चाहते हैं। जाति अलग होने के कारण परिवार वाले विरोध कर रहे हैं। लेकिन दोनों बालिग हैं, इसलिए यदि कोई उनकी शादी का विरोध करेगा तो उसपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हालांक‍ि परिवार के लोग अब मान गए हैं। 

Edited By: Vyas Chandra