पटना, आनलाइन डेस्‍क। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) और उनके परिवार के सदस्‍यों के आवास पर चल रही सीबीआइ की छापेमारी पर सियासत तेज हो गई है। राजद और कांग्रेस ने छापेमारी और उसकी टाइमिंग पर सवाल उठाए हैं। कहा है कि केंद्र सरकार सीबीआइ का दुरुपयोग कर रही है। यह बस परेशान करने का प्रयास है। हालांकि, भाजपा (BJP) ने कहा है कि छापेमारी सही है। सीबीआइ स्‍वतंत्र एजेंसी है इसलिए उसकी कार्रवाई पर सवाल खड़े करना उचित नहीं है। इधर छापेमारी के विरोध में तेजप्रताप यादव के समर्थक राबड़ी देवी के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ें- लालू यादव के खिलाफ छापेमारी में सीबीआइ को छूटा पसीना, राबड़ी देवी के आवास पर ये सब भी हुआ 

लालू और तेजस्‍वी की लोकप्रियता से घबराई है भाजपा 

राजद विधायक मुकेश रौशन ने कहा कि बिहार में कई घोटाले हुए। बालिका गृह कांड में क्‍या हुआ, सृजन घोटाले में क्‍या हुआ, उसपर कार्रवाई क्‍यों नहीं होती। 17 वर्षों से ये लोग सत्‍ता में नहीं हैं फिर ये कौन सा छापा है। अभी लालू जी बीमार हैं। तेजस्‍वी यादव दिल्‍ली में हैं। सच्‍चाई यह है कि लालू प्रसाद और तेजस्‍वी की लोकप्रियता से घबराकर सीबीआइ का इस्‍तेमाल किया जा रहा है। राजद विधायक ने कहा कि जबसे नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव के बीच नजदीकियां बढ़ी हैं तब से भाजपा का सिर दर्द बढ़ गया है और केंद्र सरकार ने अपना तोता सीबीआई को राबड़ी देवी के आवास पर भेज दिया है। ऐसे समय में यह छापेमारी ठीक नहीं है, जब लालू प्रसाद का दिल्ली में इलाज चल रहा है और तेजस्वी यादव भी बाहर हैं। राजद नेता विजय सम्राट ने कहा कि षडयंत्र रचकर ये टार्चर करने का प्रयास है। ये लोग 15 ठिकानों पर छापेमारी कर रहे हैं, 100 पर भी कर लेंगे तो कुछ नहीं मिलने वाला।

छापेमारी की टाइमिंग पर राबड़ी के भाई ने उठाए सवाल 

राबड़ी देवी के भाई प्रभुनाथ यादव ने घर में दीदी अकेली हैं। ऐसे समय में जानबूझकर ये छापेमारी की गई है। यह सर्वथा अनुचित है। कांग्रेस प्रवक्‍ता असितनाथ तिवारी ने कहा कि यह नहीं कह सकते कि लालू प्रसाद के कार्यकाल में गड़बड़ी नहीं हुई। लेकिन उससे काफी ज्‍यादा गड़बड़ी नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के कार्यकाल में हुई हैं। लेकिन इसपर उनकी नजर नहीं है। वे बस एक परिवार को टारगेट बनाए हुए हैं। केंद्रीय एजेंसी का ऐसा दुरुपयोग नहीं होना चा‍हिए।  राजद प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय तिवारी ने कहा कि बीजेपी अपने तोते को हर विरेाधी दल के नेताओं के यहां भेज दे रहे हैं। 

भाजपा नेताओं ने कहा-जैसी करनी, वैसी भरनी

इधर भाजपा ने कहा है कि सीबीआइ अपने हिसाब से काम कर रही है। इसमें भाजपा का कोई रोल नहींं है। मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि जैसा काम लालू प्रसाद ने किया है उसका परिणाम तो भुगतना ही होगा। भाजपा प्रवक्‍ता अरविंद सिंह ने भी राजद के आरोपों पर कड़ा पलटवार किया है। मंत्री जिवेश मिश्रा ने भी कहा है कि जैसी करनी वैसी भरनी। प्रो नवल किशोर यादव, मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि लालू को अपने किए का प्रतिफल मिला है। 

Edited By: Vyas Chandra