पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। Bihar Politics on Banka Blast बिहार के बांका के एक मदरसे में बीते दिन हुए विस्फोट (Banka Madarsa Blast) की पुलिस जांच शुरू हो गई है। इसे लेकर बिहार में सियासत भी गरमा गई है। राजनीतिक दलों द्वारा बयानबाजी शुरू है। इसी कड़ी में बिस्फी से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक हरि भूषण ठाकुर (BJP MLA Hari Bhsushan Thakur) ने कहा है कि ऐसे मदरसों में पढ़कर कोई डॉक्‍टर-इंजीनियर नहीं बनता। ये सरकार से अनुदान लेकर आतंकवादी (Terrorist) बनाते हैं। उन्‍होंने कहा कि मस्जिद और मदरसे जैसी जगहों पर आतंकवाद की शिक्षा दी जाती है। बीजेपी नेता व मंत्री नितिन नवीन (Nitin Navin) व विश्‍व हिंदू परिषद (VHP) ने मामले की जांच की मांग की है। बीजेपी के प्रदेश प्रवक्‍ता अरविंद सिंह ने विपक्ष पर हमला करते हुए सवाल किया है कि अब धर्मनिरपेक्षता का प्रमाण पत्र बांटने वाले क्‍यों चुप हैं? उधर, इस मामले में बीजेपी नेताओं के बयानों पर जनता दल यूनाइटेड (JDU) नेता व मंत्री जमा खान (Jama Khan) ने आपत्ति दर्ज की है। कांग्रेस (Congress) ने भी विरोध जताया है।

विदित हो कि बांका के नवटोलिया स्थित नूरी मस्जिद इस्लामपुर के समीप का एक मदरसा विस्फोट में जमींदोज हो गया। घटना में मौलवी मोहम्मद सत्तार उर्फ मोमिन की मौत  हो गई। घटना की जांच के लिए बुधवार को भागलपुर प्रक्षेत्र के डीआईजी सुजीत कुमार वहां पहुंचे। घटना में घायल कुछ लोग फरार है, जिन्‍हें पुलिस खोज रही है। एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने बताया घायलों से पूछताछ के बाद ही घटना के सही कारणों का पता चल सकेगा। फिलहाल, इसे लेकर राजनीति गरमा गई है।

देश विरोधी काम में लगे हैं मदरसे, बनाते आंतकी

घटना पर अपनी प्रतिक्रिया में बीजेपी विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा है की मदरसा की शिक्षा से कोई डॉक्टर या इंजीनियर नहीं बनता है। ये मदरसे सरकार के अनुदान पर पलकर भी देशविरोधी काम में लगे हैं। यहां से आतंकी निकलते रहे हैं। विधायक ने ने बिहार सरकार से बिहार के सभी मस्जिद और मदरसों की जांच कराने की मांग भी की है।

दलितों-पिछड़ों को प्रताड़ित करने की देते शिक्षा

विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा है कि मदरसों में दलितों-पिछड़ों को प्रताड़ित करने की शिक्षा दी जाती है। वहां पढ़ाया जाता है कि कमजोर वर्ग को परेशान कर इस्लाम कबूल करने के लिए मजबूर करो। दलितों की प्रताड़ना को लेकर विधायक ने जमुई, किशनगंज, गाेपालगंज, दरभंग तथा गोपालगंज की घटनाओं का जिक्र किया। कहा कि इससे सिद्ध होता है यह सब एक साजिश के तहत हो रहा है।

पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं विधायक

विधायक हरि भूषण ठाकुर का यह पहला विवादित बयान नहीं है। इसके पहले भी वे अल्पसंख्यकों को लेकर कई बयान दे चुके हैं। बांका विस्‍फोट को लेकर उनका बयान इसकी ताजा कड़ी है।

नितिन नवीन कहा: सच जल्‍दी आएगा सामने

बीजेपी नेता और बिहार सरकार में मंत्री नितिन नवीन ने भी पूरे मामले की जांच की मांग की है। उन्‍होंने कहा कि मदरसा में विस्फोटक किसने और क्‍यों रखा था और विस्फोट हुआ कैसे, इसकी जांच जरूरी है। जांच हो भी रही है। सच्चाई जल्द ही उजागर हो जाएगी।

कुर्सीपकड़ सियासत नहीं दे रही बोलने की इजाजत

इस मामले में बीजेपी ने भी अपना स्‍टैंड स्‍पष्‍ट कर दिया है। बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता अरविंद कुमार सिंह ने पूछा है कि विपक्ष को कटघरे में खड़ा करते हुए पूछा है कि धर्मनिरपेक्षता का प्रमाण पत्र बांटने वालों की बोलती बांका मदरसा विस्फोट पर क्यों बंद है? वहां विस्‍फोट से इमाम की मौत हुई है और मदरसा भी गिरा है। उन्‍होंने कहा है कि राजनीतिक कुर्सीपकड़ सियासत कुछ लोगों को बोलने की इजाजत नहीं दे रही है।

लव जिहाद पर बोलते हैं, विस्‍फोट पर भी बोलिए

विपक्ष पर हमलावर अरविंद सिंह ने कहा है कि जहां लव जिहाद का मामला हो, वहां पर आपका अच्छा अनुभव है। किसी दलित बच्‍ची का जबरन निकाह करा देने पर भी आप बोलते हैं कि यह प्रेम-प्रसंग का मामला है, जिसका आपको बहुत अच्छा अनुभव है। लेकिन आप मदरसों में विस्फोट पर भी कुछ बोलें कि वहां कहां से इतने विस्फोटक पदार्थ पहुंचे? किसने रखा? यह सब पुलिस जांच कर रही है, इसमें कोई दोषी बचेंगे नहीं, इस पर आपकी बोलती नहीं बन रही है?

नकारात्मक व धर्म व दंगे की राजनीति कब तक?

अरविंद सिंह ने विपक्ष से पूछा है कि कब तक आपलोग कुर्सी पकड़ और सत्ता लोलुपता की राजनीति करेंगे? उन्‍होंने सत्ता लोलुपता की सोच से ऊपर उठकर राज्य के विकास और उसकी भलाई के लिए काम करने की नसीहत दी है। विपक्ष पर आरोप लगाया है कि वह नकारात्मक व जात-पात, धर्म व दंगे की राजनीति करती है। उन्‍होंने कहा है कि अपराधी की कोई जाति नहीं होती, उसका कोई धर्म नहीं होता। अपराधी केवल अपराधी होता है। अपराधी को अपराधी रहने दीजिए, उसे हिंदू या मुसलमान नहीं बनाइए।

विहिप ने भी की उच्चस्तरीय जांच की मांग

विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने भी बांका सदर थाना क्षेत्र के नवटोलिया स्थित मदरसा में बम विस्फोट कांड की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है। विहिप के प्रांत मंत्री परशुराम कुमार ने बुधवार को इस संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर ध्यान आकृष्ट किया है। विहिप ने बांका जिले में तेजी बढ़ रही जिहादी गतिविधियों पर आक्रोश प्रकट किया है। उन्‍होने राज्य सरकार से एनआइए या सीबीआइ जांच की मांग की है।

जेडीयू की ओर से मंत्री जमा खान ने किया पलटवार

बिहार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री और जेडीयू नेता जमा खान ने मस्जिद और मदरसा को लेकर बीजेपी नेताओं के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। जमां ने कहा है कि बीजेपी विधायक को जानकारी नहीं है कि मस्जिद और मदरसे में भाईचारे को बढ़ावा दिया जाता है। मदरसा में नमाज और मस्जिद में पढ़ाई होती है। किसी एक मदरसा में हुई घटना से ऐसे आरोप लगाना गलत है। जमा खान ने कहा कि विस्फोट किसने किया, यह जांच के बाद ही पता चलेगा।

बीजेपी नेताओं के बयान पर कांग्रेस को भी आपत्ति

कांग्रेस विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने भी बीजेपी नेताओं के बयानों को आड़े हाथों लेते हुए उच्च स्तरीय जांच की मांग रखी। उन्‍होंने कहा कि कहीं ऐसा तो नहीं कि राज्‍य का माहौल खराब करने की साजिश की जा रही हो।

Edited By: Amit Alok