पटना [जेएनएन]। प्रकाशोत्सव पर्व कई मायने में खास रहा। पीएम मोदी पटना आए और प्रकाशोत्सव पर्व में हिस्सा लिया। उन्होंने जहां आयोजन के लिए बिहार सरकार का आभार व्यक्त किया वहीं नीतीश कुमार के शराबबंदी कानून की भी जमकर सराहना की।

इसके अलावा एक बात और खास रही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और लालू के पुत्र सह राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव की मुलाक़ात। गुरुवार को पटना के गांधी मैदान में दोपहर के भोजन के समय प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप को देखा तो उन्हें देखते ही कहा कि.. कैसे हैं कन्हैया जी?

उनकी मुलाक़ात से यह भी स्पष्ट हो गया कि प्रधानमंत्री हर राज्य में चल रही घटनाओं और खासकर सोशल मीडिया की पूरी खबर रखते हैं। जब बाद में जब लालू प्रसाद ने तेजप्रताप का परिचय कराया कि ये स्वास्थ्य मंत्री हैं। तब उनके शरीर को देखते हुए पीएम मोदी ने कहा कि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हैं, लेकिन खुद उनका स्वास्थ्य बहुत स्वस्थ नहीं हैं।

पढ़ें - तेजप्रताप ने फटकारा - 'धड़धड़ैले घुस जाते हो, हमारी छवि खराब हो रही है, बख्शेंगे नहीं'

इस पर लालू यादव ने सफाई दी कि उसके अंदर बहुत ताकत है और एक्सरसाइज की जरुरत महसूस नहीं करता।बता दें कि हाल ही में तेजप्रताप अपनी कृष्ण भक्ति को लेकर सोशल मीडिया पर खासे चर्चा में रहे हैं। साल के आखिर में वो वृन्दावन के दौरे पर थे। वहां उन्होंने वृन्दावन का दर्शन करते हुए कई तस्वीरें फेसबुक पर पोस्ट की थी। इसके बाद नये साल के मौके पर तेजप्रताप का बांसुरी बजाता हुआ वीडियो भी काफी वायरल हुआ था।

तेजप्रताप ने कहा- पीएम ने गलत क्या पूछा?

आज तेजप्रताप ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पीएम मोदी ने गलत क्या कहा? हम कृष्ण जी के वंशज हैं और गोपालन हमारा काम है तो उन्होंने पूछ ही लिया और कह भी दिया कि कैसे हैं कन्हैया जी? इसमें गलत क्या है?

पढ़े - प्रकाश पर्व : जमीन पर मंत्री बेटों के साथ दिखे लालू, रघुवंश ने जताई नाराजगी

पीएम के पटना दौरे के मद्देनजर सुरक्षा से लेकर खाने-पीने तक के विशेष इंतजाम किए गए थे। विशेष तौर पर लंगर में कई पकवान और लजीज व्यंजनों को शामिल किया गया था। इसमें मटर पनीर, दाल, काले चने की सब्जी, हलवा, खीर, (गुड़ और शक्कर) दोनों की, तंदूरी रोटी, मक्के की रोटी, गेंहू की रोटी, चावल, कॉफी, चाय, दूध, लड्डू, सकरपाला, गुलाब जामुन, रसगुल्ला सहित कई व्यंजन शामिल था। सारे व्यंजन पंजाब के तरण तारण के प्रेमी हवेली ने बनाए थे।

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप