Move to Jagran APP

Bihar Politics: कार्यालय छिनते ही पशुपति पारस ने उठाया बड़ा कदम, अब क्या करेंगे चिराग पासवान? सियासत तेज

Pashupati Parasबिहार की राजनीति में एक बार फिर से चाचा पशुपति पारस-भतीजा चिराग पासवान के बीच आर-पार की जंग देखने को मिल रही है। पटना स्थित कार्यालय पर अधिकार का मामला तुल पकड़ता जा रहा है। दरअसल कार्यालय छिनने के बाद पशुपति पारश हाईकोर्ट पहुंच गए हैं। इसके बाद अब देखना होगा कि चिराग पासवान कौन सा कदम उठाते हैं।

By Arun Ashesh Edited By: Sanjeev Kumar Wed, 10 Jul 2024 09:07 PM (IST)
चिराग पासवान और पशुपति पारस (जागरण फोटो)

राज्य ब्यूरो, पटना। Bihar Political News Today: पूर्व केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के कार्यालय परिसर के आवंटन रद्द करने एवं खाली कराने के आदेश के विरुद्ध पटना हाइकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है। याचिका पार्टी के उपाध्यक्ष अम्बिका प्रसाद ने अपने अधिवक्ता आशीष गिरी के माध्यम से दायर किया है।

याचिका में इन बातों का किया गया जिक्र

पशुपति पारस (Pashupati Paras) की इस याचिका में कहा गया है कि राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी का कार्यालय परिसर हाउस नम्बर 1,व्हीलर रोड़, शहीद पीर अली खान मार्ग,पटना में आवंटित किया गया था। पार्टी बाद में दो भाग में बंट गई। इस राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी को राज्य स्तर के एक दल के रूप में मान्यता दी गई।

मनमाने तरीके से पार्टी कार्यालय का आवंटन रद्द किया गया

याचिका में आगे कहा गया है कि भारतीय चुनाव आयोग ने 2 अक्टूबर,2021 को मान्यता दी थी। याचिका में कहा गया कि तब से लगातार इस परिसर में पार्टी कार्यालय कार्य कर रहा था। पार्टी ने इस कार्यालय के नवीनीकरण के लिए 27 जुलाई,2023 को आवेदन दे दिया गया था। इसके बावजूद मनमाने तरीके से पार्टी कार्यालय का आवंटन भवन निर्माण विभाग ने रद्द कर दिया।

ये भी पढ़ें

Pappu Yadav: 'मैं मुसलमान भाइयों के पैर पकड़ता हूं...', रुपौली पर पप्पू यादव ने खेल दिया दांव, क्या होगा खेला?

Prashant Kishor: '2025 चुनाव के बाद नीतीश कुमार...', प्रशांत किशोर के दावे से सियासी पारा हाई; अब क्या करेगी JDU?