Move to Jagran APP

Bihar Politics: RJD प्रत्याशी बीमा भारती पड़ीं 'नरम', क्या अब पिघलेगा पप्पू यादव का दिल; छोड़ेंगे पूर्णिया सीट?

Bihar News बिहार की पूर्णिया लोकसभा सीट पर घमासान छिड़ गया है। महागठबंधन के ही दो उम्मीदवार आमने सामने आ गए हैं। आरजेडी प्रत्याशी बीमा भारती मैदान में डटी हुई हैं तो वहीं पप्पू यादव भी कांग्रेस का झंडा लेकर चुनाव में उतरने के लिए तैयार हैं। हालांकि बीमा भारती के सुर अब थोड़े नरम पड़ गए हैं। अब देखना है की पप्पू यादव का अगला एक्शन क्या होगा?

By Sanjeev Kumar Edited By: Sanjeev Kumar Sat, 30 Mar 2024 08:19 AM (IST)
पूर्णिया लोकसभा सीट से पप्पू यादव और बीमा भारती (जागरण फोटो)

पीटीआई, पटना। Bihar Political News Today: बिहार में लोकसभा चुनाव से पहले महागठबंधन में महाभारत छिड़ गई है। इस सियासी जंग की वजह है पूर्णिया लोकसभा सीट जहां महागठबंधन के ही दो उम्मीदवार आमने-सामने आ गए हैं। पप्पू यादव (Pappu Yadav) जहां कांग्रेस का झंडा लेकर चुनावी मैदान में उतरने के लिए तैयार हैं, वहीं, आरजेडी की तरफ उम्मीदवार बीमा भारती भी सीट छोड़ने के लिए नहीं हैं तैयार।

इस बीच अब बीमा भारती का ताजा बयान सामने आया है। समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए उनके सुर नरम दिखे। बीमा भारती के इस बयान के बाद अब सवाल उठ रहा है कि क्या पप्पू यादव (Pappu Yadav) पूर्णिया सीट छोड़ने के लिए तैयार होंगे। हालांकि, पप्पू यादव ने साफ कर दिया है कि वह दुनिया छोड़ देंगे लेकिन पूर्णिया नहीं छोड़ेंगे।

बीमा ने दिया बयान क्या पप्पू यादव होंगे नरम

बीमा भारती ने कहा कि पप्पू यादव मेरे गार्जियन हैं। बीमा भारती ने पप्पू यादव से पारिवारिक रिश्ता होने की बात कही है। बीमा भारती से जब पूछा गया कि क्या कांग्रेस नेता पप्पू यादव बिहार के पूर्णिया से उनकी उम्मीदवारी का समर्थन करेंगे?

इस पर बीमा भारती ने कहा कि कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं कि वह मेरा समर्थन नहीं करेंगे और वह इसका विरोध करेंगे, लेकिन यह सच नहीं है। वह मेरे अभिभावक हैं और रहेंगे। हमारा पारिवारिक रिश्ता है और हम मिलकर पूर्णिया जीतेंगे। बहुमत के साथ सीट जीतेंगे।

यह भी पढ़ें

Bihar Politics: तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को दिया बड़ा झटका, यह दिग्गज JDU नेता आरजेडी में होगा शामिल

Chirag Paswan Qualification: कितने पढ़े लिखे हैं चिराग पासवान? जानिए क्वालिफिकेशन से लेकर डिग्री तक सबकुछ