पटना। फायर सेफ्टी का अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) लेने के लिए भवन मालिकों को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा। अग्निशमन विभाग ने आन लाइन एनओसी देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके लिए अग्निसुरक्षा से संबंधित आवेदन और संबंधित दस्तावेज भवन मालिक आन लाइन जमा कराना होगा। जांच के बाद अग्निशमन अधिकारी एनओसी जारी कर देंगे। प्रमाणपत्र आनलाइन ही लोगों को प्राप्त हो जाएगा। सारी कार्रवाई आन लाइन होने से अब लोगों को अग्निशमन विभाग का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। इससे लोगों का समय बचने के साथ ही भ्रष्टाचार पर भी रोक लगेगी।

वर्ष 2021 में बिहार अग्निशमन सेवा नियमावली लागू होने के बाद 15 मीटर या इससे अधिक ऊंचाई वाले अथवा 500 वर्ग मीटर भूमि पर बनी निजी और व्यावसायिक बिल्डिग में आग से बचाव का उपाय करना अनिवार्य कर दिया गया है। बिना एनओसी के पटना में अब कोई भी नवनिर्मित बहुमंजिली व व्यावसायिक भवन को शुरू नहीं किया जा सकता है। पहले तक भवन मालिकों को एनओसी के लिए अग्निशमन विभाग में आवेदन देना होता था। जिसके बाद एनओसी प्रदान करने की कार्रवाई शुरू होती थी।

मैनुअल काम होने से लगता था ज्यादा समय

मैनुअल काम होने से समय ज्यादा लगता था। लिहाजा लोगों की सुविधा के लिए अग्निशमन विभाग ने आन लाइन एनओसी देने की प्रक्रिया शुरू की। इसके तहत भवन मालिकों को एनओसी के लिए विभागीय लिक पर जाकर आवेदन करना होगा। आवेदन के बाद अग्निशमन अधिकारी भवन का आडिट कर एनओसी प्रदान कर देंगे। गृह रक्षा वाहिनी एवं अग्निशमन सेवाएं बिहार की महानिदेशक शोभा ओहटकर ने बताया कि आन लाइन होने से अब लोग घर बैठे एनओसी के लिए आवेदन कर सकेंगे। वहीं, कम समय में प्रमाण पत्र मिल जाने से लोगों को खासी सुविधा होगी।

Edited By: Jagran