राज्य ब्यूरो, पटना। प्रदेश जदयू कार्यालय में आयोजित कार्यकर्ताओं के दरबार में माननीय मंत्री कार्यक्रम में बुधवार को लघु जल संसाधन मंत्री जयंत राज शामिल हुए। उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और उनका समाधान किया। साथ ही उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत में जयंत राज ने उपेंद्र कुशवाहा पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को कमजोर करने की जो लोग साजिश कर रहे थे, उनका पर्दाफाश हो गया है। बिहार के विकास हेतु महागठबंधन बना है, इसे कमजोर करने वाले लोग मुख्यमंत्री को कमजोर करने का काम कर रहे हैं।

उपेन्द्र कुशवाहा द्वारा महागठबंधन में हुई डील के बारे में पूछे जाने के सवाल पर जयंत राज ने कहा कि जदयू डील में नहीं, सभी के लिए न्याय के साथ विकास में विश्वास रखती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने उपेंद्र कुशवाहा को पहली बार विधानसभा का चुनाव जीतने पर विरोधी दल का नेता बनाया, चुनाव हार गए तो पार्टी का पदाधिकारी बनाया और बाद में राज्यसभा में भेजने का काम किया।

जयंत ने कहा कि इस बार पार्टी में आने पर कुशवाहा को अपने संसदीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाया गया, फिर पवेलियन में बैठाने की बात कहने के क्या मायने हो सकते हैं। महागठबंधन से हुई डील के बारे में संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष के नाते तो उन्हें ही बताना चाहिए।

दूसरी बार मंत्री बने जयंत

बांका जिले के बौंसी प्रखंड के सिंहेश्वरी गांव निवासी दिवंगत पूर्व विधायक जनार्दन मांझी के पुत्र जयंतराज कुशवाहा के दूसरी बार मंत्री बने हैं। उन्हें नीतीश कुमार के नेतृत्‍व वाली महागठबंधन की सरकार में लघु जल संसाधन विभाग की जिम्मेदारी दी गई, इससे पहले पहले नीतीश कुमार के नेतृत्‍व वाली एनडीए की सरकार में वे ग्रामीण कार्य विभाग के मंत्री थे।

Edited By: Yogesh Sahu

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट