पटना [जेएनएन]। श्रीदेवी के निधन के बाद बॉलीवुड ने आज एक बार फिर एक नायाब सितारा खो दिया है। बिहार के मधुबनी जिले में जन्मे नरेंद्र झा का आज कार्डियक अरेस्ट होने से निधन हो गया। उनकी उम्र 55 साल थी। बिहार के मधुबनी जिले में उनकी मौत की खबर अचानक मिलने से शोक की लहर व्याप्त है।

बॉलीवुड और टीवी के जाने माने कलाकार नरेंद्र झा का हार्ट अटैक से मुंबई में देहांत हो गया है। वह मिथिलांचल के मधुबनी के निवासी थे। खबर है कि आज तड़के सुबह पांच बजे उन्होंने अपने फार्म हाउस पर अंतिम सांस ली। बताया जा रहा है कि दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हुआ है। वो 55 साल के थे। उन्होंने हिंदी के अलावा तमिल, तेलुगु आदि भाषाओं में भी फिल्में की थीं। 

हैदर, रईस के साथ ही टीवी सीरियल रावण में निभाया अहम किरदार

नरेंद्र झा विशाल भारद्वाज की फिल्म 'हैदर' और शाहरुख खान की "रईस' जैसी हिट फिल्मों में काम किया था। इसके साथ ही उन्होंने हमारी अधूरी कहानी, मोहनजोदाड़ो, शोरगुल और फोर्स-2 में भी मजबूत किरदार निभाया था। नरेंद्र झा ने टेलीविजन पर प्रसारित होने वाले सीरियल 'रावण'  में लीड किरदार निभाया और उन्हें रावण के रूप में पहचान मिली थी। उनके सशक्त अभिनय को लोगों ने खूब सराहा था।

नरेंद्र झा की पहली फिल्म थी फंटूश

नरेंद्र झा ने साल 1992 में एसआरसीसी में एक्टिंग में डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लिया था और उन्होंने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से हिस्ट्री में पोस्ट ग्रेजुएशन किया था। लेकिन उनका मन एक्टिंग में रमता था और वे दिल्ली छोड़कर मुंबई आ गए। नरेंद्र की पहली फिल्म 2002 में आई। इस फिल्म का नाम था फंटूश।

अच्छी हाईट होने की वजह से मुंबई में उन्हें मॉडलिंग के अच्छे ऑफर मिलने लगे। उसके बाद नरेंद्र झा मॉडलिंग की दुनिया का जाना-माना चेहरा हो गए। इसके साथ उन्होंने टीवी पर कई शो भी किए और लगभग 20 टीवी शो में नजर आए। उन्होंने श्याम बेनेगल की फिल्म नेताजी सुभाष चंद्र बोस में भी अहम भूमिका निभाई थी। यही नहीं, 'संविधान' में वे मोहम्मद अली जिन्ना का किरदार भी निभा चुके थे।

52 की उम्र में पंकजा ठाकुर से की थी शादी

नरेंद्र ने साल 2015 में पूर्व सेंसर बोर्ड की सीईओ पंकजा ठाकुर से शादी की थी। नरेंद्र पंकजा को बहुत पसंद करते थे और साल 2007 में उन्होंने पंकजा को प्रपोज किया था। लेकिन पंकजा पहले से शादीशुदा थीं और उनकी एक बेटी भी थी। पति से तलाक हो चुका था। पंकजा अपनी बेटी की जिंदगी डिस्टर्ब नहीं करना चाहती थीं। इसलिए उन्होंने दोबारा शादी का फैसला लेने में इतना समय लगाया। नरेंद्र ने 52 की उम्र में पंकजा के साथ सात फेरे लिए थे।

नरेंद्र झा बहुत ही मस्तमौला फितरत के शख्स थे और बहुत ही मृदुभाषी भी थे। उन्होंने एक बार बातचीत में कहा था कि उनके घरवाले भी चाहते थे कि वे आईएएस बनें क्योंकि बिहार के अधिकतर युवाओं का यही टारगेट भी होता है। लेकिन मैं भी शुरू में कुछ ऐसा ही सोचता था लेकिन एक्टिंग में मन रमता था तो मैंने उसी राह पर चलने का फैसला किया।

 

Posted By: Kajal Kumari