पटना, जागरण ब्यूरो। रोहिणी आचार्य सोमवार को अपने पिता लालू प्रसाद यादव को किडनी देंगी। लालू की सात बेटियों एवं दो बेटों में रोहिणी दूसरे नंबर की बेटी हैं। फिलहाल, सिंगापुर के एक अस्पताल में वह किडनी ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया से गुजर रही हैं। अस्पताल जाने से पहले रोहिणी ने अपनी भावना को व्यक्त करते हुए कहा है कि आम जनता के लिए लालू प्रसाद का स्वस्थ रहना जरूरी है। इसलिए, उन्होंने ऐसा साहसिक फैसला लिया। लालू यादव को अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। प्रारंभिक परीक्षण के दौर से रोहिणी पहले ही गुजर चुकी हैं।

रोहिणी के पति एवं ससुराल के परिजनों ने भी लालू यादव को किडनी देने को लेकर सहमति दे दी है। ट्रांसप्लांट के लिए उन्हें भी रविवार की देर रात भर्ती किया जाएगा। सब कुछ ठीक पाए जाने पर सोमवार 5 दिसंबर को ट्रांसप्लांट के लिए सर्जरी होगी। रोहिणी की किडनी अभी 90 से 95 प्रतिशत तक काम कर रही है। लालू की दोनों किडनी 28 प्रतिशत काम कर रही है। ट्रांसप्लांट के बाद लगभग 70 प्रतिशत काम करने लगेंगी। स्वास्थ्य के लिहाज से इतना काफी माना जाता है।

पापा के रूप में ईश्वर को देखा है- रोहिणी

रोहिणी अस्पताल जाने से कुछ घंटे पहले रोहिणी ने लालू प्रसाद के लिए अपनी भावनाएं व्यक्त की हैं। लालू की दूसरे नंबर की बेटी रोहिणी ने लिखा है कि ईश्वर को उन्होंने नहीं देखा है, लेकिन ईश्वर के रूप में पापा को देखा है।

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सिंगापुर के लिए हुए रवाना

इस बीच, उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव एवं राजद के राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव शनिवार रात सिंगापुर के लिए रवाना हो गए हैं। राबड़ी देवी एवं मीसा भारती पहले से ही सिंगापुर में हैं। सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल में लालू की किडनी ट्रांसप्लांट की जानी है। इसी अस्पताल में भाजपा के पूर्व सांसद आरके सिन्हा, अमर सिंह एवं अभिनेता रजनीकांत की किडनी बदली गई थीं।

Bhagalpur Crime: नीलम से नजदीकियां दूरी में बदली तो बेरहम हो गया शकील, काट डाले महिला के स्तन, हाथ और कान

Patna News: इंजीनियर ने किराए के घर में छिपाए थे 1 करोड़ रुपये, नोटों से भरे दो बैग के साथ लाखों के गहने मिले

Edited By: Aditi Choudhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट