बक्सर, जागरण संवाददाता। Indian Railway News: पूर्व-मध्य रेलवे (East Central Railway) के दानापुर रेल मंडल (Danapur Rail Division) के अंतर्गत पटना जंक्‍शन (Patna Junction) - पंडित दीन दयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन सेक्‍शन (Pandit Deen Dayal Upadhyay Junction) पर एक हफ्ते के दौरान दूसरी बार ट्रेन पर पथराव की घटना ने चिंता बढ़ा दी है। दोनों ही बार बदमाशों ने इस्‍लामपुर-पटना-नई दिल्‍ली मगध एक्‍सप्रेस स्‍पेशल (Islampur-Patna-New Delhi Magadh Express) को बनाया है। रविवार की शाम ट्रेन के पटना से खुलते ही स्‍लीपर बोगी पर रोड़े चलाए गए। यह घटना फुलवारीशरीफ स्‍टेशन के पहले ही हुई। इस दौरान एक महिला यात्री जख्‍मी हो गई। कुछ ही दिन पहले आरा जंक्‍शन और बिहिया स्‍टेशन के बीच इस ट्रेन पर पत्‍थर चलाए गए थे। तब रेल यात्रियों ने सीटों के नीचे छिपकर अपनी जान बचाई थी।

ट्रेन के बक्‍सर पहुंचने पर महिला का हुआ प्राथ‍मिक उपचार

पटना-फुलवारीशरीफ स्टेशन के बीच रविवार की रात मगध एक्सप्रेस पर पथराव किया गया। आरपीएफ एस्कार्ट पार्टी ने इसकी सूचना बक्सर आरपीएफ को दी। बक्सर रेलवे स्टेशन पर घायल महिला का प्राथमिक इलाज कराया गया। मामले में अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इससे पहले ऐसे ही दो मामलों में आरोपितों की गिरफ्तारी भी हुई है।

पिछली बार एक शख्‍स हुआ था गिरफ्तार

दानापुर-पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलखंड पर शरारती तत्व लगातार ट्रेनों पर पत्थर फेंक रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं और यात्रियों के लिए खतरा पैदा कर रहे हैं। गत गुरुवार की देर शाम इस्लामपुर से नई दिल्ली जा रही मगध एक्सप्रेस पर बिहिया और बनाही रेलवे स्टेशन के बीच शरारती तत्वों ने पथराव किया था। इससे एक एसी बोगी की खिड़की में लगा शीशा चकनाचूर हो गया। संयोग अच्छा रहा कि किसी यात्री को चोट नहीं आई। बाद में आरपीएफ ने त्वरित कार्रवाई करते हुए एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया था। 

25 अगस्‍त की शाम हमसफर एक्‍सप्रेस पर हुआ था पथराव

बता दें कि, इस रूट पर 15 दिनों के अंदर ट्रेन पर पथराव की यह तीसरी घटना है। इसके पूर्व 25 अगस्त की शाम तकरीबन 5:30 बजे झारखंड के जसीडीह से चलकर आनंद विहार तक जाने वाली हमसफर एक्सप्रेस पर बिहटा रेलवे स्टेशन के समीप पथराव हुआ था। इस पथराव में गार्ड की बोगी का शीशा टूट गया था। मामले में ड्राइवर तथा गार्ड के द्वारा वरुणा रेलवे स्टेशन पर मेमो देकर इस बात की सूचना दी गई थी। आरपीएफ के सुरक्षा आयुक्त एसएन ओझा ने बताया कि कुछ शरारती तत्व इस तरह की घटना को अंजाम देते हैं।