मुजफ्फरपुर [जेएनएन]। भारत बंद के दौरान सांसद और जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव ने मुजफ्फरपुर में बंद समर्थकों पर उनसे मारपीट का आरोप लगाया था। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कहा था कि प्रदर्शनकारी उनकी हत्या करना चाहते थे। हालांकि पुलिस ने भी इन आरोपों को गलत ठहराया है।

इस वीडियो पर विवाद होने के बाद जागरण ने इसकी पड़ताल करने का फैसला किया। जागरण टीम ने व्यापक स्तर पर पड़ताल की तो इस मामले में हमारे हाथ एक और वीडियो लगा। इस वीडियो में पप्पू यादव बंद समर्थकों के साथ बातचीत करते नजर आ रहे हैं।

इस वीडियो में सच्चाई साफ दिखाई दे रही है कि उनपर कोई हमला नहीं किया गया न ही प्रदर्शनकारियों ने उनको कोई नुकसान पहुंचाया है। उन्हें घेरकर लोग खड़े हैं और उनसे सवाल पूछ रहे हैं और पप्पू यादव हंसकर उन सबसे बात कर रहे हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि पप्पू का दावा झूठा साबित हो रहा है।

इसके बाद पुलिस का भी वर्जन हमने जानने की कोशिश की। इस पर मुजफ्फरपुर एसएसपी हरप्रीत कौर ने भी वीडियो जारी करते हुए कहा कि भारत बंद के दौरान पप्पू यादव पर किसी तरह का हमला नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि न ही उनकी गाड़ी और न ही उनके मोबाइल को कोई नुकसान पहुंचाया गया है। ना ही उनकी गाड़ी का शीशा टूटा है और ना ही किसी तरह की क्षति दिख रही है।

एसएसपी ने कहा कि वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि सांसद पर कोई हमला नहीं हुआ है और अगर यह वीडियो बनाया जा सकता है तो किसी हमले का वीडियो भी होना चाहिए। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है, उनके वाहन को कुछ चोट या नुकसान नहीं पहुंचाया गया है।

एसएसपी ने कहा कि अगर सांसद पप्पू यादव अपने मोबाइल को नुकसान पहुंचाने का दावा कर रहे हैं, तो उन्हें मीडिया को वो मोबाइल दिखाना चाहिए था। उन्होंने पुलिस में कोई शिकायत भी दर्ज नहीं कराई। आईजी सर और मैं दोनों ने उनसे बात भी की है।

वीडियो में ये साफ देखा जा रहा है कि पप्पू यादव एनएच से जाना चाहते थे और प्रदर्शनकारियों ने उन्हें वहां से जाने नहीं दिया। वीडियो में वे प्रदर्शनकारियों के बीच खड़े दिख रहे हैं। बंद समर्थकों के साथ उनके अंगरक्षक भी मौजूद थे।

पप्पू का दावा गलत साबित हुआ है। वे अपनी राजनीति को चमकाने के लिए गलत दावा कर रहे हैं।

जागरण फेक न्यूज के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेगा और आपके सामने हर खबर की पूरी असलियत सामने लाता रहेगा।

पूरा सच जानें...सब को बताएं
सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी भी ऐसी किसी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज, और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। ईमेल कर सकते हैं। वाट्सऐप्प के माध्यम से सूचना दे सकते है।

Posted By: Kajal Kumari