पटना : दीघा-पटना रेलवे ट्रैक को अतिक्रमण मुक्त कराने का अभियान मंगलवार की सुबह प्रारंभ होगा। इससे पूर्व प्रशासन की ओर से कई बार अतिक्रमणकारियों को इस ट्रैक को खाली करने की जानकारी नोटिस एवं अनाउंसमेंट के माध्यम से दी गई है।

पहले दिन एक जोन में चार टीमें अतिक्रमण हटाने के लिए उतरेंगी। जिला प्रशासन ने तय किया है कि पहले दिन एक जोन को खाली करा दिया जाए। मंगलवार को आर. ब्लॉक से हड़ताली मोड़ के बीच अतिक्रमण हटने की संभावना है। दो टीमें आर. ब्लॉक और दो हड़ताली मोड़ की तरफ से उतरेंगी। 17 सितंबर तक रेलवे लाइन को पूरी तरह से खाली करा लिया जाएगा।

अतिक्रमण हटाने के दौरान पूरा क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील रहेगा। भीड़ नहीं लगने दी जाएगी। दीघा से आर. ब्लॉक के बीच 6.7 किमी लंबे इस रेल खंड के किनारे 514 झोपड़ियां, 50 खटाल, 15 मंदिर और एक धोबीघाट हटेंगे। रेलवे ने 71.25 एकड़ इस भूखंड को फोर लेन की सड़क बनाने के लिए राज्य सरकार को हस्तांतरित कर दी है। पशुओं को ले जाने के लिए आठ कैटल वाहन, आठ जेसीबी, 16 ट्रैक्टर, वाटर कैनन, वज्र-वाहन, एम्बुलेंस और बड़ी संख्या में मजदूर रहेंगे। कार्रवाई के दौरान फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी होगी। पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भी इस्तेमाल होगा। प्रत्येक टीम में अमीन और कर्मी रहेंगे। बिजली, पथ निर्माण विभाग सहित कई विभाग के अधिकारी रहेंगे।

: मंदिरों और क्रॉसिंग पर तैनात रहेंगे दंडाधिकारी :

जिला प्रशासन ने मंदिरों में जमावड़ा रोकने के लिए दंडाधिकारी और पुलिस अधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती की है। रेलवे क्रॉसिंग पर भी तैनाती की गई है। मंदिरों को हटाकर उन्हें किसी दूसरे स्थान पर पुनस्र्थापित करने की योजना बनी हुई है।

----------

: पांच जोन में बंटा रेलखंड :

- आर.ब्लॉक से हड़ताली मोड़ तक

- हड़तालीमोड़ से पाटलिपुत्र पानी टंकी क्रासिंग तक

- पानी टंकी से राजीव नगर क्रासिंग तक

- राजीव नगर से दीघा क्रासिंग तक

-दीघा क्रासिंग से दीघा रेलखंड के अंतिम छोर तक

----------

: खाली करने में रुचि नहीं ले रहे हैं अतिक्रमणकारी :

जिला प्रशासन के नोटिस देने और वाहन से रेलवे लाइन खाली करने की एनाउसिंग के बाद भी अतिक्रमणकारियोंपर खास असर नहीं पड़ा है। अंचलाधिकारी प्रदीप कुमार सिन्हा ने भी आर.ब्लॉक से हड़ताली मोड़ के बीच भ्रमण कर रेलखंड को खाली करने का आग्रह किया है। वहीं प्रशासन रेलवे लाइन के किनारे माइक से घोषणा करा रहा है कि रेलवे लाइन को खाली कर दें। कार्रवाई के दौरान मवेशी और सामान जब्त कर लिए जाएंगे।

--------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप