जागरण संवाददाता, गोपालगंज : वर्ष 2020 में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के दौरान मतदान में भाग नहीं लेने वाले मतदाताओं से निर्वाचन विभाग इसका कारण जानेगा। इसके लिए निर्वाचन विभाग ने प्रत्येक विस क्षेत्र के एक मतदान केंद्र मतदाताओं से जानकारी प्राप्त करने का निर्देश दिया है। यह कार्य 31 मई तक पूर्ण किया जाएगा। निर्वाचन विभाग बिहार के संयुक्त सचिव सह संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मिथिलेश कुमार साहू ने जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी को इस संबंध में पत्र भेजकर जिले में पदस्थापित अवर निर्वाचन पदाधिकारी से विधानसभा वार किसी एक मतदान केंद्र का चयन कर उससे संबद्ध मतदाताओं का सर्वे करने को कहा है।

विभाग की ओर से उपलब्ध कराए गए मोबाइल ऐप के माध्यम से यह सर्वे किया जाएगा। इसके लिए मतदान केंद्र से संबंधित मतदाता सूची की सहायता ली जाएगी। संबंधित बीएलओ इस कार्य में सहयोग करेंगे। इस सर्वे के क्रम में मतदाताओं से यह पूछा जाएगा कि पिछले बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में उन्होंने अपना मत का प्रयोग क्यों नहीं किया। इससे संबंधित एक प्रश्नावली भी उपलब्ध कराई गई है। इसके अनुसार सर्वे में मतदान नहीं करने वाले मतदाताओं से जानकारी प्राप्त कर रिपोर्ट तैयार की जाएगी। आगामी 31 मई तक सर्वे का कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। 

दो तरह से किया जाएगा सर्वे

 मतदाताओं का सर्वे दो तरह से किया जाएगा। इसकी दो रिपोर्ट भी बनेगी। पहली रिपोर्ट में यह शामिल किया जाएगा कि सर्वे के दिन मतदाता उपलब्ध है या नहीं। उपलब्ध नहीं करने का कारण क्या है। इसमें मृत्यु, दूसरी जगह शिफ्ट होने, काम के लिए बाहर रहने, पढ़ाई के लिए बाहर रहने, क्षेत्र में नहीं रहते हैं, संबंधित नाम का कोई नहीं है और उस वक्त किसी काम से बाहर गए हैं आदि की जानकारी रहेगी। दूसरी रिपोर्ट में यह शामिल किया जाएगा कि मतदाता ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मतदान किया या नहीं। चुनाव में मतदान नहीं किया तो उसका कारण क्या था।  

सर्वे का कार्य प्रारंभ

निर्वाचन विभाग का निर्देश मिलने के बाद डीएम सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देश पर सदर अनुमंडल के अवर निर्वाचन पदाधिकारी सुशांत कुमार और हथुआ अनुमंडल के अवर निर्वाचन पदाधिकारी डा. शशि प्रकाश ने सर्वे का कार्य शुरू कर दिया है। सदर अनुमंडल में चार विधानसभा क्षेत्र गोपालगंज, कुचायकोट, बरौली व बैकुंठपुर हैं। जबकि, हथुआ अनुमंडल में दो विधानसभा क्षेत्र हथुआ तथा भोरे सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र शामिल है। 

Edited By: Akshay Pandey