पटना [जेएनएन]। कर्नाटक के बेलगाम में हुई सड़क दुर्घटना में मारे गए बिहार की प्रसिद्ध स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. शांति राय के पोते जयंत राय उर्फ रॉयन (19) का शव सोमवार की सुबह पटना पहुंचा, जिसके बाद पटना के गुलबी घाट पर उसका अंतिम संस्कार किया गया। नम आंखों से लोगों ने उसे अंतिम विदाई दी।

बता दें कि शांति राय के पोते की मौत सड़क दुर्घटना में रविवार की सुबह पांच बजे हुई थी। जयंत डॉ. शांति राय के इकलौते पुत्र डॉ. हिमांशु राय का बड़ा बेटा था। जयंत की मां डॉ. सारिका राय भी स्त्री रोग विशेषज्ञ हैं।

सोमवार की सुबह जयंत का पार्थिव शरीर पटना एयरपोर्ट पर पहुंचा। इसके पहले ही शहर के कई डॉक्टर वहां पहुंच चुके थे। शव को एयरपोर्ट से कंकड़बाग स्थित डॉ. राय के घर पर लाया गया। वहां भारी भीड़ उमड़ पड़ी, जिसके बाद घर की महिलाओं के चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। 

जानकारी के मुताबिक, जयंत रविवार को अपनी दोस्‍त निशा और एक अन्‍य दोस्‍त अंशुमान के साथ पिकनिक मनाने जा रहा था। तेज रफ्तार के कारण उसकी कार ने संतुलन खो दिया और हुबली से बेलगावी के बीच सड़क पर डिवाइडर से जा टकराई। इसके बाद करा पुलिया से नीचे जा गिरी, जिसमें जयंत व निशा की तत्‍काल मौत हो गई। गाड़ी की पिछली सीट पर बैठे अंशुमान की हालत अभी नाजुक बनी हुई है।

 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस