पटना, जागरण संवाददाता। Bihar Railway News: दिल्‍ली और दूसरे स्‍टेशनों से आने वाली ट्रेनें जब उत्‍तरप्रदेश के आखिरी बड़े स्‍टेशन पंडित दीन दयाल उपाध्‍याय जंक्‍शन (पुराना नाम- मुगलसराय जंक्‍शन) आती हैं तो स्‍पीपर और एसी कोच में सवार यात्री अपनी बर्थ सुरक्षित बचाने की जुगत में जुट जाते हैं। मुगलसराय से लेकर बक्‍सर, आरा, पटना और मोकामा हाेते हुए बेगूसराय और लखीसराय तक दैनिक यात्र‍ियों के आरक्षित कोच में सवार होने से यात्री परेशान होते हैं। रेलवे भी इस बात को बखूबी जानता है। इसी वजह से इस रूट पर चलने वाली ट्रेनों में टीटीई टिकट चेक करने से भी बचते हैं। नई दिल्ली से हावड़ा जा रही नई दिल्ली हावड़ा स्पेशल पूर्वा एक्सप्रेस (02304) में रविवार को टिकट मांगने पर एक यात्री ने उसकी पिटाई कर दी।

टीटीई का आरोप है कि यात्री ने चार्ट फाडऩे की कोशिश की। हंगामा बढऩे पर टीटीई ने तत्काल इस घटना की सूचना डीडीयू व दानापुर कंट्रोल को दे दी। हालांकि आरा में यात्री ट्रेन से उतरकर फरार हो गया। जानकारी के अनुसार टे्रन के बक्सर में टिकट निरीक्षक रामानुज गुप्ता एस-5 में टिकट जांच करने पहुंचे। एक यात्री के पास डी 2 का टिकट था। जब उससे डी 2 में जाने को कहा गया तो इन्कार कर दिया। इसको लेकर टीटीई और यात्री में बहस शुरू हो गई, जो हाथपाई में बदल गई। टीटीई ने यात्री पर चार्ट फाड़ने का भी आरोप लगाया।

इसी बीच ट्रेन आरा स्टेशन पहुंची। यहां पहले से ही 09084 ट्रेन खड़ी थी। इसी ट्रेन पर आरोपी यात्री सवार होकर फरार हो गया। टीटीई घटना की जानकारी दानापुर मंडल कंट्रोल को दी। टीटीई ने दूरभाष पर बताया कि डी-2 में 98 नंबर बर्थ पर इंद्रेश कुमार नामक यात्री एस-5 में बैठकर यात्रा कर रहा था। उसके पास अलीगढ़ से दुर्गापुर तक का टिकट था। इसकी सूचना डीडीयू व दानापुर कंट्रोल को भी दे दी गई है। रेल अधिकारियों से लेकर आरपीएफ व जीआरपी ने इस तरह की घटना से इन्कार किया है। देर शाम तक मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई थी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप