पटना, आनलाइन डेस्क। राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने एक बार फिर से आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को निशाने पर लिया है। विजयादशमी के दिन राजद सुप्रीमो ने मोहन भागवत के एक बयान को आधार बनाते हुए हमला बोला है। लालू यादव ने ट्वीट कर लिखा है कि जब जब आरएसएस और बीजेपी अपनी ही बेफिजूल की बातों में फंसती है तो नफरत फैलाने वाले सज्जन बिना मांगे ज्ञान बांटने लगते हैं। लालू यादव ने इशारों े में पीएम मोदी पर भी तंज कसा है।

(आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत। जागरण)

स्वरोजगार की तरफ जाना होगा

विजयादशमी के मौके पर राष्ट्रीय स्वयं संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर में बुधवार को कहा कि रोजगार मतलब नौकरी और नौकरी के पीछे ही भागेंगे वह वह भी सरकारी। अगर ऐसे सब लोग दौड़ेंगे तो नो नौकरी कितनी दी जा सकती है? अपने भाषण के दौरान उन्होंने कहा कि किसी भी समाज में ज्यादा से ज्यादा 10,20, 30 प्रतिशत ही नौकरी होती है। बाकि सबको अपना काम करना पड़ता है। अपने भाषण में उन्होंने कहा कि नौकरी के पीछे सब भागेंगे तो कहां से होगा। सरकारी हो और घर के करीब हो तो और अच्छा। भागवत ने कहा कि सबको नौकरी कहां से मिलेगी? बिजनेस की तरफ जाना पड़ेगा। सरकार स्टार्ट अप को बढ़ावा दे रही है।

यह भी पढ़ें- बिहार नगर निकाय चुनाव: हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ SC जाएगी बिहार सरकार, बीजेपी ने भी बता दिया अपना प्लान

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव। जागरण

यह भी पढ़ें-बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी को ललन ने बताया बांग्लादेशी, छोटे सरकार के गढ़ में कौन होगा बीजेपी का कैंडिडेट?

लालू यादव ने पीएम मोदी पर कसा तंज

नागपुर में विजयादशमी के मौके पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर राजद सुप्रीमो लालू यादव ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट के जरिए आरएसएस और पीएम पर तंज कसा है।

जदयू ने भी केन्द्र सरकार पर साधा निशाना

राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के प्रमुख के रोजगार वाले बयान पर राजद के साथ ही जदूय ने भी प्रतिक्रिया थी। जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने केन्द्र सरकार पर हमला बोाल है। जदयू अध्यक्ष ने कहा देश में सिर्फ दो कारपोरेट व्यक्ति को लाभ पहुंचाया जा रहा है। भाजपा की सरकार महिला और गरीब सवर्ण विरोधी है। ललन सिंह ने कहा कि चुनाव के वक्त हर साल दो करोड़ नौकरी का वादा और जीतने के बाद जुमला बताना इनका पेशा है।

Edited By: Rahul Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट