पटना, आनलाइन डेस्क। बिहार में गोपालगंज और मोकामा विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने वाले हैं। इसको लेकर तारीखों का भी ऐलान हो गया है। दोनों सीटों पर उपचुनाव के लिए तीन नवंबर को वोटिंग होनी है और छह नवंबर को काउंटिंग होगी। तारीखों के ऐलान के बाद सियासी गहमागहमी तेज हो गई है। पटना से सटे मोकामा सीट पर बाहुबली अनंत सिंह का कब्जा माना जाता है। ऐसे में इस सीट पर सबकी नजर है। इस बार यह कयास लगाया जा रहा है कि उनकी पत्नी नीलम देवी यहां से राजद की कैंडिडेट होंगी। इस बीच मोकामा के ललन सिंह ने अनंत सिंह की पत्नी पर बड़ा आरोप लगाया है। ललन सिंह ने नीलम देवी को बंग्लादेशी बताया है।

(राजद के पूर्व विधायक अनंत सिंह और नीलम देवी)

अनंत की पत्नी को बताया बांग्लादेशी

अनंत सिंह के गढ़ में उन्हें टक्कर देने वाले ललन सिंह ने उनकी पत्नी पर बड़ा आरोप लगाया है। ललन सिंह ने नीलम देवी का नाम लिए बिना कहा कि वो बांग्लादेशी हैं। वो भारत की नागरिक नहीं हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जहां अनंत सिंह का नाम आएगा वहां मेरा भी नाम आएगा। मोकामा की जनता को पता है कि राजद के पूर्व विधायक को कोई हरा सकता है तो ललन सिंह ही है।

यही भी पढ़ें-जेपी के बहाने लालू यादव- नीतीश कुमार को घेरने आ रहे अमित शाह, बिहार के सीएम जाएंगे नगालैंड

(मोकाम में अनंत सिंह को चुनाव रण में टक्कर देने वाले ललन सिंह)

कौन हैं ललन सिंह

मोकामा में अनंत सिंह और ललन सिंह के किस्से किसे छिपे नहीं हैं। ललन सिंह हमेशा से अनंत को चुनौती देते रहे हैं। ये बात अलग है कि छोटे सरकार ने नाम से पुकारे जाने वाले अनंत सिंह ने सियासी रण में ललन सिंह को हमेशा पटखनी दी है। 2005 की विधानसभा चुनाव में ललन सिंह लोक जनशक्ति पार्टी की टिकट पर अनंत सिंह को चुनौती देने चुनावी अखाड़े में उतरे थे। लेकिन निर्दलीय उम्मदीवार के तौर अनंत सिंह ने ललन सिंह को चुनाव हरा दिया था। फिर 2015 के विधान सभा चुनाव में ललन सिंह ने पप्पू यादव की पार्टी की तरफ मोकामा विधानसभा सीट से अनंत सिंह को टक्कर देनी चाही थी, लेकिन इस बार भी उन्हें हार का ही सामना करना पड़ा था।

बीजेपी से बढ़ रही ललन सिंह की नजदीकी

बदले सियासी समीकरण में बीजेपी की तरफ से मोकामा के सियासी रण में कौन उतरेगी इसको लेकर सस्पेंड बरकरार है। बीजेपी ने 1995 के बाद मोकामा में अपना कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है। लेकिन इस बार एलजेपी और जाप की टिकट से चुनाव लड़ चुके ललन सिंह की नजदीकी बीजेपी से छिपी नहीं है। पिछले दिनों पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ उनकी मुलाकात की तस्वीर सामने आई थी। इसके बाद बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी की मां श्रद्धांजलि समारोह में भी ललन सिंह शामिल हुए थे। हालांकि, उन्होंने इस पर कहा कि उनसे मेरा निजी संबंध है। 

(मंगलवार को अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी ने की डिप्टी सीएम तेजस्वी से मुलाकात।)

छोटे सरकार की पत्नी मोकामा से लड़ सकती हैं चुनाव

ऐसा कहा जाता है कि अनंत सिंह ऊर्फ छोटे सरकार का मोकामा में सिक्का चलता है। वो 2005 से 2020 तक लगातार इस सीट से कभी जेल में रहकर तो कभी जेल के बाहर से चुनाव जीतते रहे हैं। इस बार 10 साल की सजा होने के बाद वो फिर से जेल में हैं। उनकी पत्नी नीलम देवी को लेकर यह चर्चा है कि वो राजद की टिकट पर चुनावी मैदान में उतरेंगी। चार अक्टूबर को नीलम देवी ने तेजस्वी यादव से मुलाकात भी की थी। जिसके बाच यह चर्चा और तेज हो गई कि नीलम देवी ही अब मोकामा की रण में उतरेंगी। हालांकि, अभी इसको लेकर कोई आधिकारिक पुष्टि पार्टी की तरफ से नहीं की गई है।

Edited By: Rahul Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट