पटना, आनलाइन डेस्क। बिहार में बीजेपी से नाता तोड़ने के बाद अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी पार्टियों को भाजपा के खिलाफ एकजुट करने में जुट गए हैं। इसी सिलसिले में मुख्यमंत्री सोमवार को तीन दिवसीय दौरे को लेकर दिल्ली पहुंचे। सीएम नीतीश कुमारे ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात की। 

मैं नहीं हूं पीएम पद का उम्मीदवार

पटना से दिल्ली पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत की। 2024 लोकसभा चुनाव में पीएम पद की उम्मीदवारी पर उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं हूं। मेरे मन में ऐसी कोई इच्छा नहीं है। नीतीश कुमार ने कहा कि विपक्ष एकजुट हो जाएगा तो बहुत अच्छा माहौल बनेगा। मेरी बस इतनी इच्छा है कि विपक्षी पार्टियां एकजुट हो जाएं। उन्होंने कहा कि हमारा कोई दावा नहीं है। 

केंद्र सरकार पर बोला हमला

उन्होंने कहा कि देश में कौन सा विकास का काम हो रहा है। सब एकतरफा हो रहा है। क्षेत्रिए दलों के साथ क्या किया जा रहा है, ये सबको पता है। विपक्ष की पार्टियां एकजुट हो जाएंगी तो लोकसभा 2024 चुनाव पर असर पड़ेगा।

विपक्ष के बड़े नेताओं से करेंगे मुलाकात

तीन दिन के दिल्ली दौरे के दौरान सीएम नीतीश कुमार दिल्ली के के सीएम अरविंद केजरीवाल, शरद पवार, वामदलों के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे। जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति से भी मुलाकात करेंगे।

दिल्ली जाने से पहले लालू से की मुलाकात

बिहार में जदयू और बीजेपी का गठबंधन टूटने के बाद सियासी पारा चढ़ा हुआ है। जदयू ने बीजेपी को पूरे देश में चुनौती देने का ऐलान कर दिया है। विपक्षी पार्टियों को एकजुट करने की मुहिम पर सीएम नीतीश कुमार दिल्ली गए हैं। दिल्ली जाने से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से राबड़ी आवास जाकर मुलाकात की। इस दौरान डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और पूर्व सीएम राबड़ी देवी भी मौजूद रहीं। 

Edited By: Rahul Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट