जागरण संवाददाता, दानापुर(पटना): Big Accident in Danapur near Patna: बिहार की राजधानी पटना के दियारा क्षेत्र के अकीलपुर से आ रही एक पिकअप वैन (सवारी गाड़ी) शुक्रवार की सुबह करीब पौने सात बजे अनियंत्रित होकर पुरानी पानापुर के पास पीपा पुल (अस्थाई पुल) की रेलिंग तोड़ते हुए गंगा में जा गिरी। वाहन पर सवार एक दर्जन से अधिक लोग गंगा में डूब गए। तीन लोग किसी तरह बच निकले, जबकि नौ लोग डूब गए। सभी एक ही परिवार के थे। घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों व मृतकों के स्वजनों की भारी भीड़ जुट गई। सूचना मिलने पर एनडीआरएफ व एसडीआरएफ के गोताखोर पहुंचे और स्थानीय प्रशासन व ग्रामीणों के सहयोग से कड़ी मशक्कत के बाद सभी मृतकों के शवों को निकाला। 

मुख्यमंत्री ने जताया शोक

इधर, हादसे में नौ लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा दुख जताया है। उन्होंने दुर्घटना में मारे गए लोगों के स्वजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि वह काफी मर्माहत हैैं। मुख्यमंत्री ने आश्रितों को अनुग्रह राशि के रूप में अविलंब चार-चार लाख रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया। बताया गया कि शुक्रवार की सुबह अकीलपुर से दानापुर के लिए पिकअप सवारी गाड़ी यात्रियों को लेकर चली थी। पुरानी पानापुर घाट के पीपा पुल पर पहुंचते ही उसका स्टेयरिंग फेल हो गया और चालक के नियंत्रण खो देने से पिकअप वैन रेलिंग तोड़ते हुए गंगा में समा गई। 

26 अप्रैल को होनी है शादी

बताया गया कि अकीलपुर निवासी मदन सिंह के पुत्र राकेश की शादी 26 अप्रैल को तय थी। 21 अप्रैल को तिलक समारोह था। मदन सिंह दानापुर के चित्रकूटनगर में रोड नंबर-9 में रहते हैं। कोरोना के कारण तिलक का कार्यक्रम गांव में था। उसी में शामिल होने सभी जा रहे थे। हादसे में रामाकांत सिंह (65), उनकी पत्नी गीता देवी (60), अरङ्क्षवद ङ्क्षसह (45), उनका भतीजा आशीष (8), सरोज देवी (50), गायत्री देवी (55), अनुरागो देवी (60), मधु (13) व प्रत्यांश (11) की डूबने से मौत हो गई, जबकि सुजीत सिंह, राजेश उर्फ डॉक्टर व सिताब राय बच गए। 

तिलक चढ़ाकर लौट रहे थे सभी लोग

बताया जा रहा है कि गुरुवार की रात अकीलपुर के रहने वाले विक्रम सिंह के भतीजे राजेश का तिलक था। गंगा में डूबने वाली गाड़ी पर सवार इसी कार्यक्रम से लौट रहे थे। हादसे की खबर के बाद शादी वाले घर के लोग सन्‍न हैं तो पीड़‍ितों के घर हाहाकार मच गया है।

पुल की हालत काफी जर्जर, पहले भी हो चुका है हादसा

दानापुर के पीपा पुल की हालत काफी जर्जर है। यहां पहले भी हादसा हो चुका है। इससे पहले एक ट्रैक्‍टर पुल से गंगा में गिर गया था। दानापुर की साइड में पुल का अप्रोच रोड भी सही तरीके से नहीं बनाया गया है। दानापुर के साइड में काफी तेज ढलान होने के कारण यहां वाहनों के फिसलने का डर हमेशा बना रहता है। यह पुल स्‍टील प्‍लेट से बना है, जिसपर वाहनों के फिसलने की आशंका हमेशा रहती है। शुक्रवार को हुए हादसे की वजह भी  यही बताई जा रही है।