मोतिहारी (पूचं), जासं। जिले के लखौरा थाना क्षेत्र के बसबिकता गांव में मंगलवार की सुबह ट्रैक्टर से कुचलकर एक डेढ़ वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। लोगों ने ट्रैक्टर को घेर लिया लेकिन चालक चकमा देकर भाग निकलने में कामयाब रहा। मृत बच्चा संजय कुमार का पुत्र उत्कर्ष कुमार बताया गया है। घटना की सूचना पर स्थानीय पुलिस ने लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया और ट्रैक्टर को जब्त कर थाना ले आयी। थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने बताया कि जब्त ट्रैक्टर से दो बोतल नेपाली शराब भी बरामद की गई है। 

पुलिस चालक की शराब से कनेक्शन की जांच कर रही है। पुलिस चालक की तलाश में छापेमारी कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार संजय कुमार का पुत्र उत्कर्ष कुमार दरवाजे पर खेल रहा था। इसी दौरान रास्ते से गुजर रही ट्रैक्टर ने उसे कुचल दिया। इसके बाद लोगों की भीड़़ जुटते देख चालक वाहन छोड़ कर फरार हो गया। 

गिरफ्तार किए गए शातिरों ने बताए 40 से अधिक बदमाशों के नाम

मुजफ्फरपुर : शेरपुर में उग्र लोगों द्वारा पकड़कर धुनाई की गई एटीएम फ्राड गिरोह के दोनों शातिरों को पूछताछ में 40 से अधिक बदमाशों के नाम व ठिकाने का पता चला है। दोनों की निशानदेही पर सोमवार को विशेष पुलिस टीम ने सरैया, मीनापुर, कांटी समेत कई जगहों पर छापेमारी की। हालांकि इसमें और किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। कहा जा रहा कि दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद उसके गिरोह से जुड़े अन्य आरोपित भाग निकले। पुलिस पूछताछ में शेरपुर में गिरफ्तार किए गए आरोपितों की पहचान सिवाईपटटी चतुरसी के सुनील कुमार और मीनापुर विशुनपुर पांडेय के सुधीर कुमार के रूप में हुई है।

पंकज सहनी गिरोह से जुड़े है दोनों : ये दोनों एटीएम फ्राड गिरोह के सरगना पंकज सहनी गैंग से जुड़े है। इन दोनों के पास से जब्त मोबाइल का डिटेल्स निकाला गया। इसमें गिरोह से जुड़े दो दर्जन बदमाशों के नंबर मिले है। पुलिस का कहना है कि अभी कार्रवाई चल रही है। मंगलवार को दोनों को कोर्ट में प्रस्तुत कर न्यायिक हिरासत में भेजने की कवायद की जाएगी।

पानापुर ओपी से जा चुका जेल : जांच के दौरान सदर थाने की पुलिस को पता चला कि आरोपित सुधीर पानापुर ओपी से जेल भेजा गया था। जेल से निकलने के बाद फिर से वहीं काम करने लगा। बता दें कि रविवार को माधोपुर सुस्ता में एटीएम से रुपये निकासी कर घर जा रहे एक युवक का दोनों बदमाशों ने रुपये छीन लिए थे। इसके बाद पीछा कर दोनों बदमाशों को शेरपुर रेलवे गुमटी के समीप पकड़ा गया था। गुस्साए लोगों द्वारा बिजली के पोल में बांधकर जमकर पिटाई की गई थी। इसके बाद सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपितों को हिरासत में लिया था। कहा जा रहा कि उग्र लोगों के हत्थे चढऩे के दौरान सुधीर का मोबाइल गायब हो गया था। इसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस शेरपुर पहुंचकर उसका मोबाइल जब्त किया।

Edited By: Ajit Kumar