Move to Jagran APP

Bihar Crime : दरभंगा पहुंची एनआइए की टीम, पार्सल ब्लास्ट में रेलकर्मियों व अन्य से ली जा रही जानकारी

सिकंदराबाद व दरभंगा से मो. सुफियान नामक व्यक्ति ने बुक किया था कपड़ों का पार्सल 17 जून 2021 को दरभंगा जंक्शन पर पार्सल में हुआ था विस्फोट 25 जून को पहली बार पहुंची थी एनआइए की टीम टीम ने खींचा था घटनाक्रम का नजरी नक्शा भी

By Dharmendra Kumar SinghEdited By: Published: Mon, 12 Jul 2021 02:29 PM (IST)Updated: Mon, 12 Jul 2021 02:29 PM (IST)
दरभंगा जंक्शन पर जांच करते एनआइए के अधिकारी। जागरण

दरभंगा, जासं। दरभंगा जंक्शन पर हुए पार्सल ब्लास्ट में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की टीम सोमवार को दरभंगा पहुंची है। सात सदस्यों वाली टीम जंक्शन पर पहुंचने के साथ यहां के अतिविशिष्ट प्रतीक्षालय में रेलकर्मी व अन्य लोगों का बयान ले रही है। इस दौरान लोगों से क्या जानकारी हालिस की जा रही है, यह जानकारी नहीं दी जा रही है। हॉल को अति सुरक्षा घेरे में रखा गया है।

बताया गया इस बार जो टीम यहां पहुंची है तो वह हर बिंदु की गहराई से पड़ताल करने में लगी है। करीब एक दर्जन गवाहों के बयान दर्ज किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि टीम की ओर से मामले में गिरफ्तार किए गए शातिर आतंकियों से कई अहम जानकारी मिली है, जिसकी तस्दीक की जानी है। साथ यहां के संदिग्ध जो पहले से पुलिस की रिकार्ड में हैं, उनकी भी गिरफ्तारी की जानी है।

याद रहे कि दरभंगा जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या एक पर हुए पार्सल ब्लास्ट मामले में पहली बार 25 जून को एनआइए की 4 सदस्यीय टीम दरभंगा जंक्शन पहुंची थी तब पार्सल अनलोड करने वाले कुली समेत तीन गवाहों के बयान दर्ज किए गए थे।

ब्लास्ट वाले पार्सल की हो रही जांच

एनआइए की टीम ने जीआरपी थाना पहुंचकर ब्लास्ट वाले पार्सल की गहनता से जांच कर रही है। बता दें कि जिस पार्सल में ब्लास्ट हुआ था उस गठरी का एक वैज्ञानिक जांच को भेजा गया था। जबकि गठरी का कुछ हिस्सा जीआरपी के पास सुरक्षित है। इसी गठरी की भी जांच की जा रही है।

जीआरपी थानाध्यक्ष व वेंडरों का बयान अहम

बताते हैं कि पार्षद ब्लास्ट में अभी गवाहों की गवाही अभी भी ली जा रही है। संबंधित सभी गवाहों से गवाही लिए जाने के बाद एनआइए की टीम जीआरपी दरभंगा के थाना प्रभारी मोहम्मद हारून रशीद (पार्सल ब्लास्ट मामले के आइओ) की भी गवाही लेगी। साथ ही ब्लास्ट के दिन घटनास्थल पर मौजूद जीआरपी जवानों से भी पूछताछ होगी। दरभंगा जंक्शन प्लेटफार्म संख्या एक स्थित वेंडरों से भी गवाही ली जा रही है। इनका बयान काफी अहम माना जा रहा है।

यह है घटनाक्रम

याद रहे कि 17 जून 2021 को सिकंदराबाद-दरभंगा एक्सप्रेस ट्रेन से कपड़े का एक पार्सल प्लेटफार्म संख्या-दो पर खड़ी ट्रेन से लेकर प्लेटफार्म संख्या-एक पर स्थित चाइल्ड लाइन के सामने प्लेटफार्म पर रखा था। इसके बाद पार्सल में रखी एक छोटी शीशी से ब्लास्ट हुआ था। जिसके बाद से लगातार जांच की जा रही है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एनआइए पूरे प्रकरण से जांच कर रही है। इस दौरान यह बात सामने आई है कि सिकंदराबाद से मो. सुफियान ने दरभंगा में सुफियान के लिए पार्सल बुक किया था। एनआइए इस मामले में अबतक चार संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर चुकी है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.