Move to Jagran APP

मुजफ्फरपुर पंचायत, मुखिया चुनाव रिजल्ट : पांचवें चरण के पंचायत चुनाव में भी बदलाव के संकेत

मुजफ्फरपुर पंचायत मुखिया चुनाव रिजल्ट मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी प्रखंड की तीन पंचायतों के परिणाम आए। दो निवर्तमान मुखिया चुनाव हार गए हैं। बाजार समिति परिसर में बनााए गए मतगणना केंद्र में कुढ़नी प्रखंड की 37 पंचायतों की हो रही है मतगणना।

By Ajit KumarEdited By: Published: Tue, 26 Oct 2021 12:09 PM (IST)Updated: Tue, 26 Oct 2021 12:09 PM (IST)
लदौरा में भी निवर्तमान मुखिया चुनाव हार गए हैं। फोटो- जागरण

मुजफ्फरपुर, जासं। मुजफ्फरपुर पंचायत, मुखिया चुनाव रिजल्ट : पंचायत चुनाव के पांचवें चरण के वाेटों की गिनती मंगलवार को शुरू हो गई है। बाजार समिति परिसर में बने मतगणना केंद्र में कुढ़नी प्रखंड की 37 पंचायतों की मतगणना हो रही है। शुरुआत रूझाान में यहां भी पंचायत सरकार में बदलाव के संकेत मिले हैं। प्रखंड की खरौनाडीह, सुमेरा एवं लदौरा पंचायत की मतगणना के परिणाम आ गए हैं। खरौनाडीह में निवर्तमान मुखिया एवं दोनों पंचायत समिति सदस्य को जनता ने नकार दिया है। यहां तीन पदों पर नए चेहरे को जीत मिली है। वहीं सुमेरा में भी निवर्तमान पंचायत समिति सदस्य चुनाव हार गई हैंं। लदौरा में भी निवर्तमान मुखिया चुनाव हार गए हैं।

जिले के सबसे बड़े प्रखंड कुढ़नी की पंचायतों के वोटों की गिनती कड़ी सुरक्षा में शुरू हुई। मतगणना के लिए पंचायतों का रोस्टर पहले ही जारी कर दिया गया है। इस कारण मतगणना केंद्र परिसर में संबंधित पंचायतों के उम्मीदवार एवं मतगणना अभिकर्ता को प्रवेश दिया जा रहा है। सबसे पहले खरौनाडीह पंचायत के वोटों की गिनती शुरू हुई। यहां से निवर्तमान मुखिया प्रियंका कुमार चुनाव हार गईं। उन्हें सुनीता देवी ने पराजित किया। वहीं निवर्तमान पंचायत समिति सदस्य रीता देवी और अमरेंद्र चौधरी भी अपनी-अपनी सीटों से पराजित हो गए। उन्हें क्रमश: आशा देवी एवं सुमित कुमार ने शिकस्त दी। सुमेरा में गुड़िया कुमारी ने मुखिया पद का चुनाव जीत लिया है। उन्होंने आलिया प्रवीण को हराया। वहीं निवर्तमान पंचायत समिति सदस्य को हराकर रंजना देवी ने जीत दर्ज की। इसके अलावा लदौरा पंचायत के भी निवर्तमान मुखिया श्यामबाबू मंडल चुनाव हार गए हैं। उन्हें जुलेखा खातून ने हराया।

मालूम हो कि प्रखंड के विभिन्न छह पदों के लिए चार हजार से अधिक उम्मीदवार मैदान में हैं। यहां पंचायतों की संख्या 37 होने से मतगणना देर रात तक चलने की उम्मीद है। ईवीएम से जिन पदों के लिए मतदान हुआ था उसके वोटों की गिनती भी बुधवार सुबह तक चलने की संभावना जताई जा रही है। 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.