मुजफ्फरपुर, जेएनएन। Muzaffarpur Flood News : मुरौल प्रखंड के मुहम्मदपुर कोठी के पास रविवार की सुबह तिरहुत तटबंध टूटने से उत्पन्न तबाही पर अभी काबू पाया भी नहीं जा सका कि सरैया प्रखंड में बाया नदी का तटबंध टूट गया। ग्रामीणों द्वारा तटबंध की मरम्मत का असफल प्रयास किया जा रहा है। सूचना के बाद अधिकारियों की टीम मौके के लिए रवाना हो गई है। बाढ़ का पानी मोतीपुर - जैतपुर स्टेट हाइवे की ओर फैल रहा है। पानी के रेवा रोड में फैलने की संभावना है। लोग सुरक्षित स्थानों की ओर जा रहे है।

राहत और बचाव कार्य तेज

उधर, मोहम्मदपुर कोठी तटबंध टूटने के बाद राहत और बचाव कार्य तेज कर दिया गया है। अभियंताओं के नेतृत्व में मजदूरों की टीम बांध मरम्मत में लगी है। इसी बीच एनडीआरएफ की दो टीमें इलाके में पहुंच कर राहत और बचाव कार्य की कमान थाम ली है। जिला आपदा प्रबंधन पदाधिकारी अतुल कुमार वर्मा ने बताया राहत और बचाव कार्य जारी है। लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया है। स्थिति पर नजर रखी जा रही है। उधर, डीपीआरओ कमल सिंह ने बताया कि मोहम्मदपुर कोठी तटबंध टूटने के बाद बाढ़ का पानी पिलखी, धर्मागतपुर, जुरावनपट्टी, शिहो होते हुए सकरा की ओर निकल रहा है। कहा कि ज्यादा पैनिक होने की जरूरत नहीं है।

नदियों के जलस्तर में वृद्धि जारी

प्रशासनिक टीम पूरी मुस्तैदी के साथ काम कर रही है। उधर, लगातार जारी बारिश के चलते नदियों के जलस्तर में वृद्धि जारी है। बूढ़ी गंडक नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं, लेकिन जलस्तर स्थिर हैं। इसके अलावा बागमती, गंडक और लखनदेई नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। बूढ़ी गंडक नदी का पानी शहर के मेडिकल, अहियापुर, अखाड़ा घाट, आश्रम घाट, कोल्हूआ, पैगंबरपुर, विजय छपरा के इलाकों में लगातार पसर रहा है। बड़ी संख्या में लोग बाढ़ के पानी से घिरे हुए हैं। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस