मुजफ्फरपुर [जेएनएन]। बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित बालिका आश्रय गृह में यौन शोषण व वहां की छह लड़कियों के लापता होन की घटना की परतें एक-एक कर उघड़तीं जा रहीं हैं। इसी बीच घटना के मुख्‍य आरोपित ब्रजेश ठाकुर द्वारा ही संचालित एक अन्‍य आश्रय गृह (स्‍वाधार) से 11 युवतियों के लापता होने से सनसनी मच गई है। घटना की एफआइआर दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर में असहाय महिलाओं के लिए ब्रजेश ठाकुर द्वारा संचालित आश्रय गृह 'स्‍वाधार केंद्र' से 11 युवतियां संदिग्‍ध परिस्थितियों में गायब हो गईं हैं। इस बात महिला थाने में सोमवार को एफआइआर दर्ज कराई गई।

बता दें कि बालिका आश्रय गृह की लड़कियों से यौन शोषण का मामला प्रकाश में आने के बाद आनन-फानन में ब्रजेश ठाकुर की स्‍वयंसेवी संस्‍था 'सेवा संकल्प' द्वारा असहाय महिलाओं के लिए संचालित स्वाधार केंद्र को बंद कर दिया गया था। वहां तैनात सभी कर्मी वहां से भाग निकले थे। इसके बाद वहां रहने वाली युवतियां कहां गईं, पता नहीं चला। बाल संरक्षण इकाई को भी स्वाधार के संचालक द्वारा इस बाबत जानकारी नहीं दी गई।

इन लापता युवतियों के साथ किसी तरह की अप्रिय वारदात न हो जाए। इसको लेकर विभाग चिंतित है। समाज कल्याण विभाग से मार्गदर्शन मांगने के बाद सहायक निदेशक ने प्राथमिकी की कवायद की। पिछले दिनों टीम जब वहां जांच के लिए पहुंची तो ताला लटका मिला था। घटना को लेकर ब्रजेश ठाकुर के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई है।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप