पटना [जेएनएन]। कोई सोच भी नहीं सकता था कि भगवान की मूर्ति के नीचे तहखाना होगा और एेसा खतरनाक गोरखधंधा चल रहा होगा। लेकिन पुलिस को इसकी भनक लग गई और जब उसने तहखाने को खोला तो देखकर दंग रह गई। तहखाने के नीचे हथियार और अवैध शराब का जखीरा बरामद हुआ।

मुंगेर पुलिस ने मंदिर की आड़ में चल रहे अवैध शराब और हथियारों की सप्लाई के कारोबार का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने छापेमारी कर एक घर के अंदर बने मंदिर में भगवान की मूर्ति के नीचे बने तहखाने से हथियार के साथ भारी मात्रा में अवैध शराब भी बरामद किया है।

इस मामले में पुलिस ने एक महिला को गिरफ्तार किया है। दरअसल इस मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब पुलिस को गुप्त सूचना मिली की कोतवाली थाना क्षेत्र के मुंगेर बड़ी दुर्गा महारानी के मंदिर से सटे रवि शर्मा के आलीशान घर में अवैध रुप से शराब का बड़ा कारोबार चल रहा है।

इस सूचना के आधार पर मुंगेर एसपी आशीष भारती के आदेश पर पुलिस के विशेष टीम ने छापेमारी की।

पुलिस ने जब घर की तलाशी ली तो घर के अंदर बने मंदिर में भगवान की मूर्ती के नीचे बने छोटे तहखाने से एक पिस्टल और 37 जिंदा कारतूस को बरामद किया। साथ ही घर में बने तीन तहखानों से पुलिस ने भारी मात्रा में झारखंड और छत्तीसगढ़ की बनी विदेशी शराब बरामद किया है।

मंदिर के नीचे तहखाने ऐसे बने थे कि वे बाहर से मारवल की जमीन लग रहे थे पर जब मारवल को हटाया गया तो उसमें से हथियार और शराब बरामद हुआ। इसके आरोप में पुलिस ने घर की मालकिन रवि शर्मा की मां आशा देवी को गिरफ्तार कर लिया है।

पढ़ें - बिहार में शराब लाने के अजीबोगरीब तरीके, बैंक के कैश वैन से शराब जब्त

मुंगेर एसपी आशीष भारती के अनुसार बड़ी दुर्गा मां के मंदिर की आड़ में शराब का कारोबार चल रहा था। मंदिर परिसर में ही घर होने के कारण किसी को भी कोई शक नहीं हो पा रहा था कि वहां कोई शराब का भी कारोबार कर सकता था।

पढ़ें - शराब धंधेबाज संग पुलिसवालों ने खिंचाई फोटो, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

पुलिस ने इस घर के सामने से दो सूमो गाड़ी से 12 कार्टन विदेशी शराब भी बरामद किया। पुलिस को देखते ही शराब ढुलाई करते लोग वहां से फरार हो गए।

Edited By: Kajal Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट