मुंगेर : मॉडल स्टेशन के पूर्वी केबिन के समीप पटरी किनारे रखे अन्य पटरी किसी बड़ी घटना को कभी भी अंजाम दे सकता है। जिससे रेलवे बेखबर है। जानकारी हो कि रेलखंड के किनारे रखी पटरियां लोहे के गटर की वजह से तो अभी तक कोई बड़ी घटना नहीं घटी है, पर स्टेशन के पूर्वी केबिन यानी जुबली बेल के समीप भारी मात्रा में रखे गए पटरी से सटा कर रखे गए पटरी कभी भी राहगीरों या यात्रियों के लिए मौत का कारण बन सकती है। क्योंकि पूर्वी केबिन के समीप आए दिन रेल यात्रियों का आना-जाना होता है, जो रेल प्रशासन जानती भी है फिर भी इस दिशा में अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हो पाया है। पटरी के किनारे रखे गए पटरी के बारे में जब स्टेशन प्रबंधक सुधीर कुमार ¨सह से पूछा गया तो उन्होंने बताया पटरी मरम्मत के लिए दूसरे पटरी को रखा जाता है। क्योंकि पीडब्लूआई द्वारा रोज पटरी का मरम्मत कार्य किया जाता है। जिसमें रखे गए अन्य पटरी का सहयोग कार्य के दौरान लिया जाता है।

Posted By: Jagran