Move to Jagran APP

विस चुनाव में कांग्रेस-RJD को कितनी आएंगी सीटें? विजय सिन्हा ने कर दी भविष्यवाणी; पप्पू यादव पर भी दिया बड़ा बयान

Bihar Politics बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर बड़ी भविष्यवाणी कर दी है। उन्होंने मीडिया के साथ बातचीत में यह क्लियर किया है कि विधानसभा चुनाव में राजद और कांग्रेस को कितनी सीटें आएंगी। इसके साथ विजय सिन्हा ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि वह डिप्रेशन में हैं।

By Pradeep Gupta Edited By: Mukul Kumar Tue, 09 Jul 2024 03:51 PM (IST)
विजय सिन्हा ने लालू यादव और पप्पू यादव को लेकर साधा निशाना

संवाद सहयोगी, कटिहार। Bihar Politics In Hindi रुपौली विधानसभा चुनाव को लेकर उपमुख्यमंत्री विजय सिन्हा (Vijay Sinha) चुनाव प्रचार में जाने के क्रम में कुछ देर के लिए कटिहार में रुके थे। इस दौरान विधान पार्षद अशोक अग्रवाल के आवास पर उन्होंने प्रेस से बात करते हुए कहा कि रुपौली विधानसभा उपचुनाव में पूर्णिया लोकसभा सांसद पप्पू यादव (Pappu Yadav) का समर्थन कोई फैक्टर है ही नहीं।

इसी लोकसभा चुनाव में वह राजद (RJD) और कांग्रेस (Congress) के खिलाफ जनता के वोट से सांसद बने हैं। ऐसे में अगर फिर से वह इस धारा में लौटते हैं तो उनकी राजनीति समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस, राजद गठबंधन 25 सीटों तक सिमट कर रह जाएगी।

लालू यादव को लेकर विजय सिन्हा ने कही ये बात

डिप्टी सीएम ने देश में मध्यावधि चुनाव को लेकर लालू यादव (Lalu Yadav) के कथित भविष्यवाणी पर जवाब देते हुए कहा कि उनका सपना तार तार हो रहा है, जिस कारण लालू यादव डिप्रेशन में हैं। उन्होंने कहा कि 2025 का विधानसभा चुनाव में फिर 2010 जैसी हीं हालत राजद-कांग्रेस गठबंधन की होगी।

इस अवसर पर प्राणपुर विधायक निशा सिंह, कोढा विधायक कविता पासवान व विधान पार्षद ने डिप्टी सीएम को मांग पत्र भी सौपा। इस अवसर पर विधान पार्षद अशोक कुमार अग्रवाल,भाजपा जिला अध्यक्ष मनोज कुमार राय, नगर निगम की मेयर उषा देवी अग्रवाल सहित भाजपा नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।

यह भी पढ़ें-

Bihar Politics: रुपौली के लिए क्या है नीतीश का प्लान? अब करीबी नेता ने संभाला मोर्चा, लोगों से कर दी बड़ी अपील

I.N.D.I.A और NDA के लिए क्यों जरूरी है रूपौली की जीत? इधर नीतीश ने धुरंधरों को उतारा, उधर RJD ने अपनाई अलग रणनीति