कैमूर। चुनावी महापर्व में बीफ मुद्दा नहीं बनना चाहिए, बल्कि जनता से जुड़े मुद्दे उठाने चाहिए। मैं लालू यादव को भी सुझाव दूंगा कि वो बीफ को मुद्दा ना बनाएं। उक्त बातें देश के गृहमंत्री व भाजपा के वरीय नेता राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कही। वे मोहनियां के जगजीवन मैदान में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पीएम नमो की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए बिहार के चौतरफा विकास का वादा किया।

गृहमंत्री ने यूपी के दादरी कांड की तो चर्चा नहीं की परंतु बिहार के चुनाव प्रचार में बीफ को मुद्दा बनाने के लिए लालू यादव को घेरा। कहा कि लालू अपनी विफलताओं पर पर्दा डालने के लिए बीफ का मुद्दा उछाल रहे हैं। अगर वो नहीं मानें तो मैं नीतीश कुमार व सोनिया गांधी से अपील करुंगा कि वे उन्हें समझाएं। उन्होंने बांग्लादेश को हो रही पशु तस्करी की भी चर्चा की। कहा कि एनडीए की सरकार बनने के पूर्व भारत-बांगलादेश बार्डर पर लाखों की संख्या में गायें बांगलादेश तस्करी कर ले जायी जाती थी। परंतु उन्होंने खुद बार्डर पर पहुंच सैन्य अधिकारियों व जवानों के साथ बैठक की, अब तस्करी में 90 फीसद तक कमी आयी है। पाकिस्तान सीमा पर आतंकी गतिविधियां भी बहुत हद तक नियंत्रित कर ली गयी हैं। उन्होंने सवालिया लहजे में लोगों से बिजली, सड़क, पानी, स्कूल, अस्पताल आदि का हाल पूछा। नकारात्मक उत्तर मिलने पर कहा कि बिहार में एनडीए की सरकार बनाएं, लालू-नीतीश राज की तकलीफों से छूटकारा पाएं। सभा को प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष मंगल पांडेय ने भी संबोधित किया।

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट