जागरण संवाददाता, गया : नगर निगम के वार्ड संख्या-तीन पार्षद सह जिला कांग्रेस महिला प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष लाछो देवी ने शुक्रवार को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश आरके राजपूत की अदालत में आत्मसमर्पण की।इसके खिलाफ डेल्हा थाना 129-22 में ड्रग्स का मामला दर्ज है। 

वार्ड पार्षद का चालक राजू पासवान ने भी इसके खिलाफ डेल्हा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराया था। उस वक्त डेल्हा थाना की पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। न्यायालय से उन्हें जमानत पर रिहा किया गया था। इस तरह वार्ड पार्षद की मुश्किलें अब और बढ़ने वाली है।

वार्ड पार्षद के कई परिवार के सदस्य है जेल में बंद

प्रतिबंधित ड्रग्स के खिलाफ गया पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। इस मामले में शामिल होने लोगों को एक-एक कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। वार्ड पार्षद की बहन सहित कई परिवार गया केंद्रीय कारा में बंद है। 

मिली जानकारी के अनुसार एसएसपी के निदेश पर 11 मई को मंदराज बिगहा मोहल्ला में छापामारी में वार्ड पार्षद लाछो देवी के भाई कृष्णा प्रसाद व बहन गुड़िया देवी एवं रोहित कुमार को पकड़ा गया था। इन तीनों ने जमानत अर्जी को अदालत ने पूर्व में खारिज कर दी थी और सभी न्यायिक हिरासत में हैं।

इससे पहले ड्रग्स मामले में ही सिविल लाइन्स थाना की पुलिस ने नादरागंज मोहल्ला से लाछो देवी के बहन का बेटा सह वार्ड पार्षद संतोष कुमार को भी गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। चाकंद थानाध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह ने चाकंद स्टेशन से एक और रिश्तेदार मनोज कुमार को गिरफ्तार किया था। इस घर से नगदी, जेवरात और स्मैक बरामद किया गया था। इस तरह देखा जाए तो गया केंद्रीय कारा में लाछो देवी के परिवार के कई सदस्य बंद है।

Edited By: Prashant Kumar Pandey