गया में राष्ट्रीय लोक अदालत में 3165 वादों का निष्पादन

गया। व्यवहार न्यायालय में शनिवार को तीसरा राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। सचिव अंजू सिंह जिला विधिक सेवा प्राधिकार की निगरानी में आयोजित किया गया। इसके लिए 16 बेंच का गठन किया गया था। इसमें गया में 14,एवं 2 शेरघाटी में किया गया था। इन बेंच के माध्यम से 3165 वादों का निष्पादन किया गया। इसका समझौता राशि नौ करोड़ 24 लाख 47 हजार 961 रुपया है। इसमें बिजली 1112 केस में समझौता राशि तीन करोड़ 29 लाख 20 हजार 872, क्रिमिनल कंपाउंडेबल 1120 केस में समझौता राशि 11 लाख 11 हजार 465 रुपये, वैवाहिक बाद छह केस,मोटर वाहन दुर्घटना दावा में 26 समझौता राशि एक करोड़ 99 लाख पांच हजार रुपये,बैंक 892 केस समझौता राशि तीन करोड़ 84 लाख 74 हजार 588, बीएसएनएल का आठ केस का समझौता राशि 36,036 का निपटारा किया गया। मौके पर रविंद्र नाथ त्रिपाठी फैमिली जज एवं मुन्नू कुमार पैनल अधिवक्ता ,अरुण कुमार एडीजे-5 एवं नरेश कुमार सिन्हा पैनल अधिवक्ता, संगम सिंह एडीजे-3 एवं पवन कुमार मिश्रा पैनल अधिवक्ता, संदीप मिश्रा एडीजे 7 एवं तनवीर आलम पैनल अधिवक्ता,रंजीत कुमार एडीजे-11 एवं महेंद्र सिंह पैनल अधिवक्ता, दीपक कुमार एडीजे-12 एवं शंभू शरण पांडे पैनल अधिवक्ता, कुमारी विजया एडीजे-15 एवं कुमारी सुमन सिंह पैनल अधिवक्ता,गायत्री कुमारी एसीजेएम -1 एवं रवि रंजन वर्मा पैनल अधिवक्ता ,कुमार प्रभाकर एसडीजेएम एवं उमेश कुमार पैनल अधिवक्ता, अस्मा अदिति रेलवे मजिस्ट्रेट एवं प्रमिला कुमारी पैनल अधिवक्ता,अनीश कुमार जेएम प्रथम एवं कृष्णा कुमार पाठक पैनल अधिवक्ता, अफज़ल खान जेएम प्रथम एवं सतीश कुमार पैनल ,शिखा शर्मा जेएम प्रथम एवं शकुंतला कुमारी पैनल अधिवक्ता शामिल थे। साथ हीं इस कार्यक्रम को सफल बनाने में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के हादी अकरम, प्रतुल कुमार, उदय कुमार ,हारून रशीद ,विकास कुमार, अनिल कुमार एवं मनीष कुमार जुल्फिकार अंसारी ,संजय चौधरी, धीरेंद्र कुमार प्रेमजीत कुमार का योगदान रहा।

Edited By: Jagran