संवाद सहयोगी, मोहनियां : नगर में चोरों के बढ़ते आतंक से लोग भयभीत है। चोर अब मंदिरों को भी निशाना बना रहे हैं। शुक्रवार की रात भभुआ रोड स्टेशन से पूरब वार्ड संख्या आठ में अवस्थित काली मंदिर का ताला तोड़ चोरों ने दान पेटी से हजारों रुपये गायब कर दिया। करीब 20 हजार रुपये से अधिक राशि चोरी होने की बात बताई जा रही है। मंदिर के बगल में सात कुत्ते मरे पड़े थे। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है की चोरों ने जहर दे कर कुत्तों को मार दिया। उन्हें भय था की कुत्ते भोंककर चोरी में खलल न डाल दें। यह घटना नगर में चर्चा का विषय बनी है।

मंदिर की दानपेटी जिससे उड़ाए गए पैसे

कार्य क्षेत्र को ले जीआरपी थाना और मोहनियां थाना के बीच पेंच 

ज्ञात हो कि काली मंदिर रेलवे कालोनी से सटा है। जिससे यह भभुआ रोड जीआरपी थाना के कार्य क्षेत्र में आता है। जहां कुत्ते मरे हैं वह स्थान नगर पंचायत के वार्ड संख्या आठ में पड़ता है। ऐसे में मंदिर में चोरी की घटना की प्राथमिकी भभुआ रोड जीआरपी थाना में होगी। कुत्तों के मौत की प्राथमिकी मोहनियां थाना में होगी। कार्य क्षेत्र को ले जीआरपी थाना और मोहनियां थाना के बीच पेंच फंसा है। दोपहर बाद भी इस घटना की लिखित शिकायत जीआरपी थाना को नहीं मिली थी।प्रभारी थानाध्यक्ष ने इस बात की जानकारी दी। वहीं काली मंदिर पूजा समिति के सचिव धीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि उन्होंने जीआरपी थाना को चोरी से संबंधित आवेदन दिया है।

पोस्टमार्टम कराने पर ही होगा उद्भेदन

जीआरपी का कहना है कि रेलवे द्वारा बनाए गए नाले के दक्षिण कुत्ते मरे हैं। नाले के उत्तर का भाग जीआरपी के कार्य क्षेत्र में पड़ता है।कुत्तों से मौत से संबंधित प्रथमिकी मोहनियां थाना में होगी। मोहनियां नगर पंचायत के मुख्य पार्षद प्रतिनिधि सह समाज सेवी शिवजी ने बताया कि मंदिर में चोरी की घटना शर्मनाक है। चोरों ने जहर देकर सात निरीह कुत्तों को मार दिया है। जिनका मोहनियां थाना पुलिस पोस्टमार्टम कराए तभी मामले का खुलासा होगा।

Edited By: Prashant Kumar Pandey