मोतिहारी । गांव-कस्बों में बच्चा चोरी के संदेह में किसी भी अजनबी को भीड़ द्वारा पीटने का सिलसिला अब शहरों में भी पहुंच गया है। शनिवार की सुबह एक ऐसे ही बुजुर्ग पर शनि का ग्रह चढ़ गया और वह भीड़ की चपेट में आ गया। बिना कुछ जाने-समझे भीड़ द्वारा उस वृद्ध पर मारपीट का तेवर दिखाया जा रहा था उससे मानवता शर्मसार हो रही थी। शनिवार को बलुआ चौक स्थित एक सिनेमागृह परिसर में उन्मादी भीड़ ने कानून को अपने हाथ में लेकर बच्चा चोरी के आरोप में एक वृद्ध को पीटकर अधमरा कर दिया। पीपरा थाना क्षेत्र के चकनिया गांव में अभी बच्चा चोरी के आरोप में युवक की पिटाई से मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुई था कि शहर ने भी अपना बदरंग चेहरा दिखा दिया। यह तो संयोग ठीक रहा कि सूचना के आलोक में पुलिस मौके पर पहुंच गई और वृद्ध की जान बच गई। वृद्ध को निशाना बना रहे लोगों पर पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा तब उसे बचाया जा सका। पुलिस ने भीड़ से बचाने के बाद उसे सदर अस्पताल में इलाज कराया। जानकारी के अनुसार जिले के डुमरियाघाट थाना क्षेत्र के नारायणपुर गांव निवासी बली यादव पंजाब जाने के लिए मोतिहारी रेलवे स्टेशन जा रहा था। इसी दौरान किसी ने बच्चा चोरी की अफवाह फैला दी और भीड़ उस वृद्ध पर टूट पड़ी। बिना कुछ समझे सीधे उसकी पिटाई शुरू कर दी। वह जान की दुहाई देता रहा मगर, भीड़ कुछ सुनने को तैयार नहीं थी। इस कारण बलुआ ओवरब्रिज पुल भी जाम हो गया। भीड़ का एक हिस्सा वृद्ध को पीट रहा था तो दूसरा हिस्सा तमाशबीन था। भीड़ में कुछ लोग उसका विडियो भी बना रहे थे, मगर कोई उसे बचाने के लिए आगे आने की हिम्मत नहीं जुटा रहा था। पुलिस निरीक्षक अभय कुमार ने बताया कि जख्मी वृद्ध को इलाज के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया गया है। पुलिस ने भी वृद्व की पिटाई का विडियो बनाया है, जिसके फुटेज के आधार पर चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी।

इनसेट

बिना जाने-समझे लोग सिर्फ संदेह में कानून को ले रहे हाथ में, अक्सर पिट रहे भिखारी व साधु

मोतिहारी , संस : बच्चा चोर के अफवाह में जिस प्रकार से कानून हाथ में लेने की घटनाएं सामने आ रही है उससे मानवता शर्मसार हो रही है। लोग कानून को अपने हाथ में लेकर बिना जाने समझे न्याय करने पर तूल जा रहे हैं वह दुर्भाग्यपूर्ण है। हद तो यह कि भिखमंगे, विक्षिप्त और साधु वेशधारियों पर एक तरह सामत आ गई है। इलाके में भ्रमण करते मिलते ही लोग बच्चा चोर के शक मे उसकी जमकर पिटाई कर दे रहे है। इधर, इन दिनों गांव में किसी अजनबी को देखते ही वे सकते में आ जा रहे हैं। सूबे के अलावा पूरे जिले में भी बच्चा चोरी का शोरगुल व हंगामा के कारण अब तक आधा दर्जन लोग चोरी के आरोप में भीड़ के शिकार हो चुके हैं।

अबतक के घटनाक्रम --- एक नजर में

1 सितम्बर 2019 संग्रामपुर थाना के भटवलिया गांव में भी चोरी के आरोप में युवक की पिटाई 9 नामजद व छह अज्ञात पर केस दर्ज

3 सितम्बर 2019 पहाडपुर थाना के बनकट गांव में भी बच्चा चोरी का शोरगुल

4 सितम्बर 2019 चकिया थाना के भुअनछपरा गांव में बच्चा चोर के आरोप में एक की पीटाई

5 सितम्बर 2019 मुफसिस्ल थाना के पतौरा लाला टोला गांव में बच्चा चोरी के मामले में महिला सहित तीन गिरफ्तार

5 सितम्बर 2019 तुरकौलिया थाना के वृतिया लोकनाथपुर गांव में बच्चा चोरी के आरोप में एक गिरफ्तार

5 सितम्बर 2019 बंजरिया थाना क्षेत्र के झखिया गांव में बच्चा चोरी के मामले में एक गिरफ्तार

6 सितम्बर 2019 पकड़ीदयाल थाना के चोरमा गांव में बच्चा चोरी की अफवाह, महिला फरार

वर्जन

बच्चा चोरी की अफवाह को रोकने के लिए लोगो को जागरूक किया जा रहा है। यह कानूनी अपराध है। यह अभिशाप व शर्मसार करनेवाली घटना है। संदेह में किसी के साथ मारपीट न करें। संदिग्ध व्यक्ति को पुलिस के हवाले करे, कानून का पालन करे। इसके लिए पांच पुलिस निरीक्षकों की एक टीम भी बनाई गई है। कानून के साथ खिलवाड़ करनेवालों पर कार्रवाई की जाएगी ।

शैशव यादव

अपर पुलिस अधीक्षक सह प्रभारी एसपी

मोतिहारी

-------------------------

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप