बक्सर : बिहार से यूपी को जोड़ने वाला कर्मनाशा नदी पर बना देवल पुल ओवरलोडिग की भेंट चढ़ने वाला है। विगत वर्ष इस पुल के दो नंबर पिलर का स्लैब तीन इंच नीचे धंस गया था। लगातार बेरोकटोक बालू लदे ओवरलोड ट्रकों के परिचालन से नीचे धंसे पुल की स्लैब की दुरिया बढ़ गई है। जिससे पुल की स्थिति भयावह बन गई है और कभी भी बड़े हादसे का सबब बन सकता है।

आज भी बालू लदे ओवरलोड ट्रक इस पुल से होकर यूपी की ओर अंधाधुंध दौड़ लगा रहे हैं। वहीं, छोटे-बड़े और यात्री वाहन भी इस पुल से होकर आ जा रहे हैं। यहां बता दें कि जिले से यूपी को जोड़ने वाले तीन पुल है। जिनमें जिला मुख्यालय के वीर कुंवर सिंह सेतु का स्लैब धंसने व बेयरिग ़खराब होने के चलते तीन चार वर्ष से भारी वाहनों का आवागमन बन्द कर दिया गया। वहीं, कर्मनाशा नदी पर चार दशक पहले बना कर्मनाशा पुल की स्थिति दयनीय है। हालांकि, यूपी प्रशासन द्वारा मरम्मत कराये जाने के बाद छोटी चार पहिया व हल्के बड़े वाहनों का आवागमन करने योग्य है। जबकि, ढाई दशक पहले रामपुर के पास कर्मनाशा नदी पुल पर बना देवल पुल भारी ओवरलोड वाहनों के भेंट चढ़ गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस