आरा। भोजपुर जिले के आरा शहर के चर्चित बैग कारोबारी इमरान खान हत्याकांड में फांसी की सजा पाने वाले हिस्ट्रीशीटर खुर्शीद कुरैशी समेत 10 सजायाफ्ता कैदियों को मंगलवार की दोपहर कड़ी सुरक्षा के बीच केन्द्रीय कारा बक्सर स्थानांतरित कर दिया गया। सारे सजावार कैदी अब वहीं पर सजा काटेंगे। भोजपुर के डीएम रोशन कुशवाहा एवं एसपी राकेश कुमार दूबे की अनुशंसा पर यह कदम उठाया गया है। आरा जेल में बंद कसाब टोला निवासी खुर्शीद कुरैशी, उसके भाई अब्दुल्ला कुरैशी, नजीरगंज के राजू खान, रौजा मोहल्ला के अनवर कुरैशी, मिल्की मोहल्ला के अहमद मियां, खेताड़ी मोहल्ला के बबली मियां, तौशिफ आलम व फुरचन उर्फ फुचन मियां, रौजा के गुड्डू मियां व अबरपुल मुहल्ला के शमशेर मियां को केन्द्रीय कारा भेजा गया है। जेल अधीक्षक युसूफ रिजवान ने इसकी पुष्टि की है।

--

मृत्युदंड की सजा मिलने के बाद सभी को डाल दिया गया था सेल के अंदर

सोमवार को फांसी की सजा मिलने के बाद सभी 10 सजावार कैदियों को आरा जेल के सेल में डाल दिया गया था। साथ ही मारे गए इमरान के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। आपको बताते चलें कि कोर्ट ने सोमवार को आरा जेल में बंद कुख्यात खुर्शीद कुरैशी सहित 10 आरोपितों को फांसी की सजा सुनाई थी। सजा पाने वालों में एक खुर्शीद कुरैशी का भाई अबदुल्ला भी शामिल है। नवम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार के कोर्ट ने सभी आरोपितों को हत्या, आपराधिक षड्यंत्र, आ‌र्म्स एक्ट और रंगदारी के लिए भय पैदा करने में दोषी पाते हुए वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए मृत्युदंड की सजा सुनाई थी। गौरतलब हो कि नौ मार्च को ही सभी आरोपियों को दोषी पाया गया था। मालूम हो कि छह दिसंबर 2018 को आरा टाउन थाना के धर्मन चौक स्थित शोभा मार्केट पर दिनदहाड़े अंधाधुंध फायरिग की गई थी। जिसमें दूध कटोरा निवासी बैग कारोबारी इमरान खान की मौत हो गई थी। छात्र सोनू कुरैशी हत्याकांड में वांटेड सुहैल अभी तक नहीं लग सका पुलिस के हाथ

टाउन थाना क्षेत्र अंतर्गत रमगढि़या मोड़ के समीप घटित बेगुनाह छात्र मो. सोनू कुरैशी उर्फ अब्दुल रहमान हत्याकांड में वांछित वांछित सुहैल अभी तक पुलिस के हाथ नहीं लग सका है। वैसे पूर्व में कुर्की की कार्रवाई भी हुई थी। मालूम हो कि 30 सितंबर 2019 की दोपहर बक्सर जेल में बंद खुर्शीद कुरैशी के छोटा भाई मो. सोनू कुरैशी बाइक पर सवार होकर अपने घर कसाब टोला से रमगढि़या की ओर गया हुआ था। इसी दौरान रमगढि़या मोड़ के समीप हथियार बंद अपराधियों ने मो.सोनू पर हमला कर दिया था। सिर एवं मुंह के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसे लेकर मृतक के भाई मो. अब्दुला कुरैशी ने टाउन थाना में दुधकटोरा निवासी मो. सुहैल, उसके भाई मो. सुहैब, बबलू एवं नाजीरगंज निवासी छोटू मियां समेत तीन अज्ञात के विरुद्ध केस दर्ज कराया था।

Edited By: Jagran