मुंगेर, जेएनएन।  प्रतिमा विसर्जन के दौरान सोमवार की देर रात पुलिस और आम लोगों के बीच हुई हिंसक भिड़ंत में एक व्यक्ति की मौत हो गई और आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। मामले की जांच के लिए एडीजी विधि-व्यवस्था अमित कुमार और एडीजी पुलिस मुख्यालय जितेंद्र कुमार मुंगेर पहुंच चुके हैं। जमालपुर थाने में एक बंद कमरे में मुख्यालय से आए उक्त दोनों वरीय अधिकारी, डीआइजी मुंगेर मनु महाराज, डीएम राजेश मीणा व एसपी लिपि सिंह के बीच लगभग 45 मिनट तक बातचीत हुई। दोनों अधिकारी अपनी रिपोर्ट मुख्यालय को उपलब्ध कराएंगे। इधर, मुंगेर चैंबर ऑफ कॉमर्स ने घटना के विरोध में अनिश्चितकालीन मुंगेर बंद बुलाया है।

तनाव को देखते हुए पारा मिलिट्री फोर्स और बिहार पुलिस के जवान संयुक्त रूप से गश्त लगा रहे हैं। उधर, पुलिस का यह भी कहना है कि पथराव के दौरान एक थानाध्यक्ष सहित 20 पुलिसकर्मी भी जख्मी हुए हैं। पुलिस जिस फायरिंग को असामाजिक तत्वों की हरकत बता रही है, उसे पूजा समिति और चैंबर ऑफ कॉमर्स के अधिकारी पुलिस की बर्बर कार्रवाई मान रही है। जिला प्रशासन ने पूर्व से ही देर शाम तक प्रतिमा विसर्जन का निर्देश पूजा समितियों को दिया था। प्रशासनिक अधिकारियों का मानना था कि 28 अक्टूबर को मुंगेर जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव होने हैं। इस कारण जल्द से जल्द प्रतिमाओं का विसर्जन हो जाए, लेकिन प्रतिमाएं रुक-रुककर आगे बढ़ रही थी। बताया जाता है कि मुंगेर में बड़ी दुर्गा के विसर्जन के बाद ही अन्य दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन होता है। मां बड़ी दुर्गा की प्रतिमा डोली पर विसर्जित की जाती है, जिसे 32 कहार उठाते हैं। इस कारण जुलूस में शामिल प्रतिमाएं धीरे-धीरे आगे बढ़ रही थीं। पुलिस प्रतिमाओं का जल्द विसर्जन करवाना चाह रही थी। इसी बात को लेकर पुलिस और विसर्जन जुलूस में शामिल लोगों के बीच भिड़ंत हो गई। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू किया और गोलियां चलनी शुरू हो गई। जवाब में भीड़ ने भी पुलिस पर पथराव कर दिया। फिर फायरिंग हुई। गोली लगने से कोतवाली थाना क्षेत्र के लोहापट्टी निवासी अनुराग कुमार (22) की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। इस घटना में सुमित कुमार, डब्लू कुमार, विकास कुमार, चंदन कुमार, संजीव कुमार, देव प्रकाश भारती, रितेश कुमार, आदित्य कुमार, सौरभ कुमार और अमित पासवान जख्मी हुए हैं। सुमित को बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर किया गया है।

घटना को लेकर चैंबर ऑफ कॉमर्स की आपात बैठक हुई। अध्यक्ष कृष्ण अग्रवाल, आपात चेयरमैन संतोष अग्रवाल, सचिव मनोज जैन, प्रवक्ता निर्मल जालान और मीडिया प्रभारी अशोक सितारिया आदि बैठक में मुख्य रूप से मौजूद थे। इस दौरान पुलिस की बर्बर कार्रवाई के विरोध में अनिश्चितकाल के लिए मुंगेर बाजार को बंद रखने का निर्णय लिया गया। चैंबर ने पूजा समिति के सदस्यों को बिना शर्त रिहा करने और दोषी पुलिस पदाधिकारियों पर कार्रवाई करने की भी मांग की है। चैंबर का यह भी कहना है कि इस घटना की न्यायिक जांच होनी चाहिए। पुलिस तथ्यों को तोड़-मोड़कर पेश कर रही है। पूजा समिति के लोगों का कहना है कि पुलिस ने निहत्थे लोगों पर पहले लाठीचार्ज किया और फिर गोलियां बरसाई। अब उल्टे पुलिस अपने बचाव के लिए यह कह रही है कि गोली भीड़ द्वारा चलाई गई। उसी गोली से युवक की मौत हुई है। जब तक इस मामले की उच्च स्तरीय जांच नहीं होती है, तब तक निर्दोष लोगों को न्याय नहीं मिल पाएगा।

इधर, एसडीपीओ नंदजी प्रसाद ने कहा कि दीनदयाल चौक के समीप विसर्जन के दौरान असमाजिक तत्वों द्वारा पुलिस पर पथराव व फायरिंग की गई। पथराव की घटना में कोतवाली, मुफस्सिल, संग्रामपुर, कासिमबाजार थानाध्यक्ष के साथ 20 पुलिसकर्मी जख्मी हो गए। पुलिस ने तीन हथियार और गोलियां भी बरामद की हैं। इधर, घटना के बाद से सभी चौक-चौराहों पर पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है। मंगलवार सुबह पुलिस की निगरानी में प्रतिमाओं का विसर्जन कराया गया और मृतक अनुराग कुमार के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान अप्रिय घटना घटी। विसर्जन के दौरान असमाजिक तत्वों ने पुलिस को निशाना बना कर पथराव किया। वहीं, असमाजिक तत्वों ने फायङ्क्षरग भी की। फायङ्क्षरग में एक व्यक्ति की मौत हो गई। छह लोग जख्मी हैं। 20 से अधिक पुलिस के जवान जख्मी हुए हैं। एक थानाध्यक्ष का सिर भी फट गया है। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। पुलिस जवान लगातार फ्लैग मार्च कर रहे हैं। किसी भी प्रकार की अफवाह पर ध्यान नहीं दें।  - लिपि सिंह, एसपी, मुंगेर

दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान पुलिस पर रोड़ेबाजी व फायरिंग की गई। इसमें एक व्यक्ति की मौत हुई है। शहर के सभी नागरिकों से अपील है कि शांति-व्यवस्था बनाए रखें। अफवाहों पर ध्यान नहीं दें। - राजेश मीणा, डीएम, मुंगेर

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस