आनलाइन डेस्क, भागलपुर। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में आंतकियों लगातार दूसरे दिन कायरना हरकत को अंजाम देते हुए दो गैर राज्य के कामगारों को मौत के घाट उतार दिया है। जानकारी के मुताबिक, आतंकियों ने कुलगाम के वानपोह इलाके में गैर स्थानीय मजदूरों पर आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग की। इस हमले में दो श्रमिकों की मौत हो गई। दोनों श्रमिक बिहार के अररिया जिले के रहने वाले बताए जा रहे हैं। वहीं, एक अन्य घायल है। 

जानकारी मुताबिक, आतंकियों ने घर से घुसकर मजदूरों को निशाना बनाया गया है। कहा जा रहा है कि हमले में मारे गए दोनों मजदूर बिहार के रहने वाले हैं। अभी इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है। हालांकि, मृतकों की पहचान बिहार के निवासी राजा और जोगिंदर के रूप में हुई है। वहीं घायल हुए व्यक्ति की पहचना नाम चुनचुन देव के रूप में हुई है। इससे पहले शनिवार को बांका के अरबिंद कुमार साह, जो गोल गप्पे बेचते थे उनकी श्रीनगर के ईदगाह क्षेत्र में हत्या कर दी गई थी। दूसरी तरफ, पुलवामा में यूपी के निवासी सगीर अहमद को भी मार डाला गया।

  • गोलीबारी में दो श्रमिकों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई।
  • वहीं एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।
  • उसे तुरंत अस्पताल में ले जाया गया।
  • मृतकों की पहचान राजा रेशीदेव, जाेगिंद्र रेशीदेव के रूप में हुई
  • जबकि तीसरे घायल की पहचान चुन चुन रेशीदेव के रूप में हुई। तीनों बिहार के रहने वाले हैं।

अनंतनाग मेडिकल कालेज अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. मोहम्मद इकबाल सोफी का कहना है कि उनके पास एक ही घायल आया है। उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

वहीं श्रमिक को गोली मारने की घटना का पता लगते ही सुरक्षाबल मौके पर पहुंच गए और उन्होंने पूरे क्षेत्र को अपने कब्जे में ले लिया। सुरक्षाबलों ने इस क्षेत्र में तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। पिछले 24 घंटों में अन्य प्रदेशों के श्रमिकों को मारने की यह दूसरी घटना है। इसमें अभी तक चार श्रमिकों की मौत हो चुकी है।

लगातार रविवार को दोहरे हत्याकांड के बाद से जम्मू-कश्मीर में टारगेट किलिंग पर देशभर की नजरें दौड़ रहीं हैं। इससे पहले भागलपुर के वीरेंद्र पासवान जो वहां गोल गप्पे बेंचते थे उनकी भी हत्या कर दी गई। गौरतलब है कि हताश आतंकी पिछले कुछ दिनों से घाटी में बेकुसूर लोगों को निशाना बना रहे हैं। श्रीनगर के ही ईदगाह इलाके में एक स्कूल में घुसकर गोलीबारी आतंकियों ने गोलीबारी करते हुए स्कूल की प्रिंसिपल और एक शिक्षक की हत्या कर दी थी।  श्रीनगर में ही कश्मीरी पंडित माखन लाल बिंदरू की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जो पेशे से केमिस्ट थे और लंबे समय से लोगों की सेवा कर रहे थे। इन तमाम वारदातों के बाद जेके के हालातों का आकलन किया जा सकता है।

Edited By: Shivam Bajpai