ऑनलाइन डेस्‍क, भागलपुर। Srinivasa Ramanujan Talent Search Test in Mathematics Exam 2022 : बिहार की सबसे बड़ी प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी टीचर्स ऑफ बिहार ने "श्रीनिवास रामानुजन टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथमेटिक्स 2022" से संबंधित विषय पर जागरूकता हेतु "सवाल आपके-जवाब हमारे" एक्सक्लूसिव टॉक शो का आयोजन ऑनलाइन फेसबुक लाइव के माध्यम से आयोजित किया।

ये अतिथि हुए शामिल

  • दीपक कुमार सिंह, भा.प्र.से. अपर मुख्य सचिव, शिक्षा विभाग
  • प्रो. (डॉ.) के.सी. सिन्हा, कुलपति, नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी
  • डॉ. अनंत कुमार, प्रोजेक्ट निदेशक, बिहार काउंसिल ऑन साइंस एंड टेक्नोलॉजी, पटना
  • डॉ. विजय कुमार, संयोजक-सह-कार्यकारी संयुक्त सचिव, बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी शामिल हुए।
  • टॉक शो को टीचर्स ऑफ बिहार टीम के सदस्य नम्रता मिश्रा एवं विनोद कुमार उपाध्याय ने मॉडरेट किया। नम्रता कुमारी मध्य विद्यालय मदरौनी, रंगरा चौक, भागलपुर में शिक्षिका है। विनोद कुमार उपाध्‍याय अरवल में शिक्षक हैं।
  • टीचर्स ऑफ बिहार (टीओबी) के फाउंडर शिव कुमार हैं।

ऑनलाइन टॉक शो "सवाल आपके जवाब हमारे" को संबोधित करते हुए शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने कहा कि बिहार के बच्चों में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। जरूरत है इसे विभिन्न अवसरों पर दिखाने की। उन्होंने कहा कि पढ़ाई का उद्देश्य केवल परीक्षा उत्तीर्ण करना ही नहीं होता है। केवल परीक्षा में आने वाले प्रश्नों को हल कर लेने से ही हम पूर्णरूपेण योग्य नहीं बन सकते हैं। पठित विषय वस्तु का पूर्ण ज्ञान भी होना अति आवश्यक है।

नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. (डॉ.) के.सी. सिन्हा ने कहा कि श्रीनिवास रामानुजन टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथमेटिक्स परीक्षा 2022 में कक्षा 6 से 12 तक के बच्चे भाग ले सकते हैं। यह प्रतियोगिता विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग बिहार सरकार द्वारा आयोजित की जा रही है। यह परीक्षा राज्य के सभी 38 जिलों के राजकीय अभियांत्रिकी तथा पॉलिटेक्निक संस्थान में आयोजित की जाएगी। इसमें भाग लेने वाले इच्छुक अभ्यर्थी 15 नवंबर से आवेदन कर रहे हैं। आवेदन करने के लिए अंतिम तिथि 3 दिसंबर निर्धारित की गई है। इस अवधि के बाद कोई अतिरिक्त समय विभाग द्वारा नहीं दी जाएगी।

बिहार काउंसिल ऑन साइंस एंड टेक्नोलॉजी, पटना, प्रोजेक्ट निदेशक, डॉ. अनंत कुमार ने कहा कि इस परीक्षा में 100 अंक के 25 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। इसके लिए अभ्यर्थियों को एक घंटा का समय दिया जाएगा। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए एक-चौथाई अंकों की कटौती की जाएगी। इतना ही नहीं, एक समान अंक लाने वाले प्रतिभागियों के लिए उनके द्वारा लिए गए समय को पैमाना बनाया जाएगा। संबंधित अभ्यर्थी 8 दिसंबर के बाद बीसीएसटी के वेबसाइट से अपना प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकेंगे।

बिहार मैथमेटिकल सोसाइटी के संयोजक-सह-कार्यकारी संयुक्त सचिव, डॉ. विजय कुमार ने वर्ग 6 से 12वीं कक्षा तक के विद्यालयों के बच्चों से अनुरोध किया है कि अपने अंदर की छुपी हुई प्रतिभा को बाहर लाएं एवं इस परीक्षा में अधिक से अधिक संख्या में शामिल होकर अपनी प्रतिभा को राज्य स्तर पर जरूर दिखाएं।

एक्सक्लूसिव टॉक शो "सवाल आपके, जवाब हमारे" में शामिल सभी अतिथियों के प्रति टीचर्स ऑफ बिहार के फाउंडर शिव कुमार ने आभार प्रकट करते हुए कहा कि पूर्व में भी बिहार के बच्चों एवं शिक्षकों के हित में इस तरह के कई कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं और आगे भी बिहार के शिक्षा एवं शिक्षक हित में टीचर्स ऑफ बिहार के द्वारा इस तरह के कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

टीचर्स ऑफ बिहार (TOB)

टीओबी ने प्रदेश प्रवक्ता रंजेश कुमार ने कहा कि टीचर्स ऑफ बिहार सरकारी विद्यालय के शिक्षकों का एक ग्रुप है। जो शिक्षा में गुणवत्ता पूर्ण सुधार के‍ लिए लगाकार कार्य कर रही है। टीओबी के फाउंडर शिव कुमार हैं। शिव कुमार मध्‍य विद्यालय विक्रम आराप पटना के शिक्षक हैं। स्टेट टीम लीडर खुशबू कुमारी मध्‍य विद्यालय बलुआचक, जगदीशपुर, भागलपुर की शिक्षिका हैं। वे टीओबी की भागलपुर District Mentor भी हैं। टीओबी के टेक्निकल टीम लीडर शिवेंद्र सुमन हैं।

Edited By: Dilip Kumar Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट