संवाद सहयोगी, बांका। बांका-कटोरिया रोड स्थित हडिय़ासी चौक पर सोमवार की सुबह कार टक्कर में विजयनगर निवासी धनोज साह गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। धनोज को गंभीर हालत को देखते हुए सदर अस्पताल से डाक्टर ने उन्हें बेहतर उपचार के लिए भागलपुर रेफर कर दिया गया था। जहां धनोज ने सोमवार की दोपहर दम तोड़ दिया। धनोज सुबह ठहलने निकले थे। कोहरे के कारण यह घटना घटी थी। इधर, धनोज की मौत की खबर पाकर 90 वर्षीय उनकी मां चमेली देवी ने सोमवार देर शाम दम तोड़ दिया।

इधर एक साथ दो मौत की घटना से स्वजनों में कोहराम मच गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि धनोज थोड़ा मंदबुद्धि का था। दोनों की शव यात्रा मंगलवार को निकली। जहां लोगों की आंखें नम हो गई। स्वजनों ने बताया कि शव का अंतिम संस्कार भागलपुर के सुलतानगंज घाट पर किया गया। स्वजनों ने बताया कि धनोज की शादी नहीं हुई थी। जबकि बीमार मां पहले से ही सदर अस्पताल में भर्ती थी। बेटे की मौत की सूचना मिलते ही मां भी सदमे में चली गई। इसके बाद तो वह उठी ही नहीं। 

दोनों शव को सुशील ने दिया मुखाग्नि

सुलतानगंज गंगा घाट पर दोनों शवों को सुशील साह ने मुखाग्नि दी है। सुशील धनोज का भतीजा है। एक साथ दो चिता जलने पर घरवालों में पलूट साह सहित अन्य का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। इसके पूर्व भी हडिय़ासी चौक पर धनोज के बड़े भाई शिवनंदन साह की सड़क हादसे में मौत सात साल पूर्व हो गई थी। बड़े भतीजा निवास साह ने बताया कि परिवार के चार सदस्यों की मौत हडिय़ासी चौक पर पूर्व में हो चुकी है। इधर टक्कर मारने वाले कार का कोई पता नहीं चल पाया है। थानाध्यक्ष शंभू यादव ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। घटना के बाद इसकी चर्चा हर ओर हो रही है।  

Edited By: Dilip Kumar Shukla