संवाद सहयोगी, जमालपुर (मुंगेर)। विक्रमशिला सुपरफास्ट ट्रेन के एस-सात कोच के नीचे से चिंगारी और धुआं निकलने से यात्रियों में अफरातफरी मच गई। यह चिंगारी ब्रेक बाइडिंग (ब्रेक शू चिपकने) की वजह से निकली थी। आननफानन में गाड़ी को बरियारपुर स्टेशन से पहले रोका गया। ट्रेन के लोको पायलट, सहायक लोको पायलट और गार्ड कोच के पास पहुंचे और ब्रेक को पहिए से छुड़ाया लगभग छह मिनट बाद ट्रेन खुली। घटना मंगलवार की दोपहर 12:40 बजे के आसपास की है। भागलपुर से आनंद विहार टर्मिनल जा रही विक्रमशिला एक्सप्रेस निर्धारित समय पर चल रही थी, ट्रेन का ठहराव सुल्तानगंज स्टेशन के बाद सीधा बरियारपुर है।

  • धुआं-धुआं हुआ विक्रमशिला का स्लीपर कोच, यात्रियों में मच गई अफरातफरी
  • भागलपुर से चलकर आनंद विहार टर्मिनल जा रही थी ट्रेन
  • बरियारपुर स्टेशन से पहले ब्रेक बाइंडिंग होने से स्लीपर कोच संख्या सात में भर गया धुआं

एस-सात कोच में हुई ब्रेक बाइंडिंग

बरियारपुर स्टेशन पहुंचने से पहले स्लीपर कोच संख्या सात में ब्रेक बाइंडिंग हो गई इसके बाद कोच्चि में धुआं भर गया कोच में धुआं भर जाने के बाद यात्रियों में किसी अनहोनी की सूचना पर अफरा-तफरी मच गई। धुआं देख ट्रेन के चालक ने ट्रेन को रोका और संबंधित कोच में जाकर पहिए से ब्रेक को छुड़ाया। इसके बाद ट्रेन बरियारपुर स्टेशन पहुंची।

यह भी पढ़ें: बिहार में गुलाब का असर, सात दिन और बढ़ गया मानसून

बरियारपुर स्टेशन पर भी लोको पायलट, सहायक लोको पायलट संबंधित कोच के पास फिर पहुंचे सब कुछ नार्मल होने के बाद ट्रेन बरियारपुर से खुली जमालपुर स्टेशन पर ट्रेन लगभग 10 मिनट विलंब से पहुंची। रेलवे ने बताया कि ब्रेक बाइंडिंग से किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचा है। दरअसल, चार दिन पहले भी पटना बक्सर रेलखंड पर विक्रमशिला एक्सप्रेस में ब्रेक बाइंडिंग की घटना हुई थी और कोच में धुआं भर गया। यात्रियों से उनकी शंका दूर की जा चुकी है। 

Edited By: Shivam Bajpai