भागलपुर। मुख्य संरक्षा आयुक्त ने भागलपुर-साहिबगंज रेल सेक्शन पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन चलाने की अनुमति दे दी है। इसके बाद शुक्रवार को इस रूट पर पहली गुड्स ट्रेन का परिचालन शुरू हुआ। पूर्व मध्य रेल के समस्तीपुर से मालगाड़ी मुंगेर गंगा ब्रिज होकर भागलपुर-साहिबगंज रेल सेक्शन से गुजरी। गुड्स ट्रेन की रफ्तार 80 से 100 किमी के बीच रही। डीआरएम यतेंद्र कुमार ने बताया कि एनओसी मिलने के बाद इलेक्ट्रिक इंजन से परिचालन शुरू हो गया है।

डीआरएम ने बताया कि अब साहिबगंज-भागलपुर रेलखंड पर अब इलेक्ट्रिक इंजन से ही ट्रेनें चलेंगी। उन्होंने बताया कि सीआरएस ने इस ट्रैक पर 100-110 किमी प्रति घटे की रफ्तर से स्पेशल ट्रेन का ट्रायल लिया था, ट्रायल बेहद सफल रहा। रेलवे संरक्षा आयुक्त ने निरीक्षण के क्रम में हर बारीकियों से रूबरू हुए। दरअसल, भागलपुर-शिवनारायणपुर के बीच विद्युतीकरण का सीआरएस निरीक्षण पहले मार्च में ही होना था। 23 मार्च को तिथि तय की गई थी, इस बीच लॉकडाउन शुरू हो गया, इसके बाद 30 जून को निरीक्षण किया गया। भागलपुर-साहिबगंज सेक्शन के यातायात निरीक्षक बीबी तिवारी ने बताया कि इलेक्ट्रिक इंजन के साथ गुड्स ट्रेन से रफ्तार के साथ गई। इस रूट पर पहली बार इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन चलता देख लोगों ने तालियां बजाई और रेलवे के अधिकारियों को इसके लिए धन्यवाद भी दिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस