जागरण संवाददाता, मुंगेर : मुंगेर से आस्था सर्किट भारत दर्शन ट्रेन अब होली बाद चलेगी। कोरोना को लेकर भारतीय रेलवे का उपक्रम इंडियन रेलवे टूरिज्म कारपरेशन लिमिटेड ने निर्णय लिया है। 20 मार्च को चलने जा रही आस्था सर्किट ट्रेन से दक्षिण भारत के तीर्थ स्थलों का भ्रमण कराया जाएगा। रामेश्वरम, तिरुपति बालाजी, मीनाक्षी मंदिरों का दर्शन होगा। आस्था सर्किट ट्रेन का परिचालन एलएचबी रैक से की जाएगी। पहली बार आईआरसीटीसी ने ( IRCTC tour package) भारत दर्शन ट्रेन में एसी और स्लीपर कोच को रखा गया है। आईआरसीटीसी के उप महाप्रबंधक पर्यटन पूर्वी जोन क्षेत्र के राजेंद्र बोरबन ने बताया कि श्रद्धालुओं की डिमांड पर परिचालन हो रहा है।

दरसअल, इस विशेष ट्रेन का परिचालन 16 जनवरी की सुबह मुंगेर से होना था। कोरोना का मामला बढ़ जाने के कारण अब यह 20 मार्च को चलेगी। होली के बाद योगनगरी मुंगेर स्टेशन से परिचालन होगा। आस्था सर्किट भारत दर्शन स्पेशल से दक्षिण भारत के तीर्थ स्थलों का भ्रमण कराएगा। यात्री तिरुपति, मदुरै, रामेश्वरम, कन्याकुमारी, पद्मानाभस्वामी मंदिर का दर्शन कर सकेंगे। इस ट्रेन के टिकटों की बुकिंग श्रद्धालुओं ने करा रखी थी। अधिकारी के अनुसार जिन्होंने दक्षिण भारत आस्था सर्किट में आरक्षण कराया था, उनका आरक्षण खुद ब खुद स्थानांतरण हो जाएगा। ऐसे में आरक्षण करा चुके श्रद्धालुओं को घबराने की जरूरत नहीं है।

इस नंबर पर करें संपर्क

दक्षिण भारत आस्था सर्किट ट्रेन में पहली बार स्लीपर के साथ एसी कोच को जोड़ा गया है। इस वजह से श्रद्धालुओं के लिए यह ट्रेन सुविधाजनक है। ठहरने से लेकर भ्रमण की बेहतर व्यवस्था है। सफर के दौरान श्रद्धालुओं की सुरक्षा को भी बेहतर इंतजाम किया गया है। परिचालन अवधि बढ़ाए जानेे के बाद आइआरसीटीसी की ओर से 9002040142 नंबर जारी किया गया है। आस्था सर्किट में आरक्षण करा चुके श्रद्धालु इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। किसी भी प्रकार की समस्या को लेकर इस नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

Edited By: Shivam Bajpai